DA Image
28 नवंबर, 2020|11:13|IST

अगली स्टोरी

भ्रष्टाचार के विरोध में अधिवक्ताओं ने किया प्रदर्शन

भ्रष्टाचार के विरोध में अधिवक्ताओं ने किया प्रदर्शन

सदर तहसील में व्याप्त भ्रष्टाचार के विरोध में शनिवार को सिविल कोर्ट के अधिवक्ताओं ने तहसील परिसर में प्रदर्शन किया। तहसील प्रशासन के विरुद्ध जमकर नारेबाजी की। चेताया कि यदि भ्रष्टाचार का खेल बंद नहीं किया गया, तो अधिवक्ता सड़क पर उतरकर आंदोलन करने को विवश होंगे।

सिविल बार के पूर्व महामंत्री वीरेंद्र प्रताप सिंह ने कहा कि सदर तहसील में भ्रष्टाचार अपने चरम सीमा पर पहुंच गया है। आउटसाइडरों को रखकर उनके माध्यम से सुविधा शुल्क वसूल किया जा रहा है। बिना सुविधा शुल्क के कोई भी काम नहीं हो रहा है। दाखिल खारिज के लिए अच्छी खासी सुविधा शुल्क की मांग की जा रही है। इसपर अंकुश लगाया जाना चाहिए। वरिष्ठ अधिवक्ता संतोष पाठक ने कहा कि तहसील में भ्रष्टाचार का खेल बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। आउटसाइडरों को तहसील से बाहर का रास्ता दिखा दिया जाए। कहा कि अधिवक्ताओं पर लगातार हमले हो रहे हैं। इससे अधिवक्ता सेफ्टी बिल का पास होना आवश्यक है। प्रदर्शन करने वालों में पूर्व डीजीसी शौकत अली, मनीष तिवारी, प्रमोद श्रीवास्तव, मनीष जायसवाल, गुलाम रसूल, जाफर मेहंदी, विजय बहादुर आदि अधिवक्ता शामिल रहे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Advocates demonstrated against corruption