DA Image
Thursday, December 2, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेश बुलंदशहरस्याना विधायक डेंगू संक्रमित, बुखार से दो की मौत

स्याना विधायक डेंगू संक्रमित, बुखार से दो की मौत

हिन्दुस्तान टीम,बुलंदशहरNewswrap
Wed, 27 Oct 2021 10:55 PM
स्याना विधायक डेंगू संक्रमित, बुखार से दो की मौत

डेंगू और रहस्यमयी बुखार लगातार कहर बरपा रहा है। स्याना विधायक देवेन्द्र सिंह लोधी भी डेंगू संक्रमित हो गए हैं। विधायक का उपचार नोएडा के एक अस्पताल में चल रहा है। वहीं, छतारी के गांव नारऊ और ककोड़ के गांव धनौरा में एक-एक युवक की रहस्यमयी बुखार से मौत हो गई। जनपद में बुखार से करीब 26 लोगों की मौत हो चुकी हैं। हालांकि स्वास्थ्य विभाग बुखार के साथ अन्य बीमारी को भी इसका कारण मान रहा है। वहीं, डेंगू के 73 मरीज कंफर्म और 357 संदिग्ध मरीज हैं।

भाजपा के स्याना विधायक देवेन्द्र सिंह लोधी निवासी गांव बहलीमपुरा के सहयोगी दिनेश चंद्र लोधी ने बताया कि दो दिन पूर्व उन्हें पूर्व बुखार आया था। बुखार आने पर विधायक को नोएडा के कैलाश अस्पताल में भर्ती कराया गया। वहां पर जांच के दौरान डेंगू होने की जानकारी मिली। विधायक तभी से अस्पताल में भर्ती हैं।

धनौरा में बुखार से युवक की मौत

ककोड़। बुखार के चल रहे प्रकोप के रहते धनौरा गांव में एक और युवक को लील लिया। धनौरा निवासी नितेश (22 वर्ष) पुत्र मनोज को करीब पन्द्रह दिन पहले बुखार आया। गंभीर हालत होने पर पीड़ित को नौएडा निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां उपचार के दौरान बुधवार सुबह नितेश की मौत हो गई। मृतक का करीब डेढ वर्ष पहले विवाह हुआ था। तथा चार माह की बच्ची है। गांव में बुखार का प्रकोप है। कई लोग हायर सेंटर पर उपचार करा रहे हैं। मृतक की मौत डेंगू से होने की चर्चा है। वैर पीएचसी प्रभारी सचिन भाटी ने बताया कि क्षेत्र में डेंगू का प्रकोप नहीं है। गांवों में कैंप लगाए जा रहे हैं।

नारऊ में रहस्यमयी बुखार से युवक की मौत

-स्वास्थ्य विभाग की टीम ने की लोगों की जांच

छतारी। संवाददाता

क्षेत्र के गांव नारऊ में रहस्यमयी बुखार से युवक की मौत हो गई। वहीं कई लोग बीमार हैं। स्वास्थ विभाग की टीम ने गांव में पहुंचकर पीड़ित लोगों की जांच की है। टीम ने पांच लोगों को डेंगू के शुरुआती लक्षण मिलने पर हायर सेंटर भेजा है।

गांव नारऊ निवासी संजीव कुमार(30) पुत्र नाहरसिंह कई दिन से बुखार से पीड़ित था। परिजनों ने उसे उपचार के लिए अलीगढ़ निजी अस्पताल में भर्ती करा दिया था। मंगलवार की शाम को अस्पताल से घर लाने पर संजीव की मौत हो गई। संजीव की मौत से परिजनों में कोहराम मच गया। संजीव के 2 पुत्र व एक पुत्री है। वहीं स्वास्थ्य विभाग ने गांव में फैले बुखार की रोकथाम के लिए शिविर लगाया है। शिविर में 293 लोगों की जांच की गई। साथ ही बुखार से पीड़ित लोगों को दवा भी दी गई। शिविर में 83 एनएस-1, 103 मलेरिया एंटीजन, 42 मलेरिया स्लाइड बनाकर लोगों की जांच की गई। जांच में नीरज, गुड्डन, चांद तारा, साहिब और प्रियांशी में डेंगू के शुरुआती लक्षण मिले। टीम ने उन्हें खुर्जा के जटिया अस्पताल में भर्ती कराया। शिविर के दौरान स्वास्थ्य केंद्र पहासू प्रभारी डॉ मनोज कुमार, डॉ टीटू वर्मा, डॉ वीर प्रताप, लैब टेक्नीशियन गौरव गौड़,फार्मासिस्ट अनिल शर्मा आदि मौजूद रहे।

शिविर में 293 लोगों की जांच की है। जिनमें पांच लोगों में डेंगू संदिग्ध हैं। जिनका उपचार कराया जा रहा है।

-डॉ. मनोज कुमार , पहासू स्वास्थ्य केंद्र प्रभारी

बुखार की रोकथाम के लिए लगातार स्वास्थ्य विभाग की टीम कार्य कर रही है। गांव-गांव में शिविर लगाकर लोगों की जांच कर दवाएं दी जा रही हैं।

-डा.विनय कुमार सिंह, सीएमओ

--------------------------------

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें