DA Image
9 अगस्त, 2020|2:04|IST

अगली स्टोरी

शिकारपुर सील होने से रोजी रोटी का संकट

default image

शिकारपुर में कोरोना संक्रमण बढ़ने पर पूरे कस्बे को सील कर दिया गया है। पिछले करीब एक सप्ताह से अधिक समय से कस्बा सील है। ऐसे में अधिकांश लोगों के आगे रोजी रोटी का संकट पैदा हो गया है। नगर में लोगों के घर से निकलने पर प्रतिबंध लगा दिया। हॉट स्पॉट बनने और लॉकडाउन के चले मजदूर लोगों के सामने रोजी रोटी का संकट पैदा हो गया है। आपके प्रिय समाचार पत्र हिन्दुस्तान को व्हाटसएप संवाद में बताया कि लॉकडाउन के चलते रोजगार और आमदनी बिल्कुल खत्म हो गई है। केडी शर्मा ने बताया कि लॉकडाउन के चलते लोगों के रोजगार और व्यापार बिलकुल समाप्त हो गये हैं। इसका असर सबसे अधिक दहाड़ी मजदूरों पर पड़ा है। उनको अब उधार भी कहीं से मिल नहीं रहा है। वह रोजी रोटी के लिये परेशान हैं। शिवकुमार शर्मा ने बताया कि लॉकडाउन में सरकार से गरीब लोगों को कोई राहत नहीं है। केवल पांच किलो गेहूं और पांच किलो चावल या महिलाओं के जन धन खातों में पांच सौ रुपये से गरीबों का भला नहीं हो पा रहा है। मोहम्मद मुस्लिम ने बताया लॉकडाउन और बन्द के दौरान जरुरी दवाईयां नहीं मिल रही है। बैंकों से पैसा नहीं निकल रहा है। जिन गरीब लोगों के पास पैसा नहीं है। उनको कोई समान नहीं मिल रहा है। ---

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:The crisis of living bread due to Shikarpur Seal