DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सिकंदराबाद ब्लॉक के खंड शिक्षा अधिकारी का देवरिया तबादला

प्राइवेट स्कूलों की मान्यता करने और शिक्षकों से उगाही के करने के आरोपों में सुर्खियों में रहे सिकंदराबाद ब्लॉक के खंड शिक्षा अधिकारी महेश पटेल का शासन ने देवरिया स्थानांतरण कर दिया हैं। प्राथमिक शिक्षक संघ के प्रदेश अध्यक्ष व जिलाध्यक्ष सहित अन्य संगठनों ने खंड शिक्षा अधिकारी की शिकायतें शासन में व बेसिक शिक्षा निदेशक से की थी। जिस पर शासन ने अमल करते हुए उनका देवरिया स्थानांतरण कर दिया है। अमान्य स्कूलों की मान्यता करने में उन पर सबसे ज्यादा उगाही के आरोप लगे थे। शासन ने हाल ही में कई जिलों के काफी खंड शिक्षा अधिकारियों इधर से उधर किया है। इसमें बुलंदशहर जिले से भी चार खंड शिक्षा अधिकारियों का स्थानांतरण गैर जनपदों में कुछ दिन पूर्व कर दिया गया है। इसमें केएल वर्मा को शासन ने बलिया भेजा दिया है। पोप सिंह को हाथरस, अखिलेश प्रताप सिंह को अलीगढ़ और राजेंद प्रसाद सिंह को संभल भेजा गया है। बीएसए अम्बरीश कुमार ने चारों खंड शिक्षा अधिकारियों को रिलीव भी कर दिया है। मगर अब शासन ने सिकंदराबाद ब्लॉक में तैनात खंड शिक्षा अधिकारी महेश पटेल का भी देवरिया स्थानांतरण कर दिया है। बता दें कि महेश पटेल तत्कालीन बीएसए डा. अजीत कुमार के समय में बुलंदशहर आए थे और ज्वाईन करने के कुछ दिन बाद ही वह विवादों में आना शुरू हो गए थे। अमान्य स्कूलों की मान्यता करने और शिक्षकों से अवैध वसूली के आरोप उन पर लगे थे। उत्तर प्रदेश प्राथमिक शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष सुरेंद्र यादव व सेवानिवृत्त शिक्षकों ने उनके खिलाफ कई बार प्रदर्शन किया था। कुछ स्कूल संचालकों से मान्यता के नाम पर उनपर मोटी रकम लेने के आरोप थे और इसकी शिकायत डीएम के पास भी हुई थी। हाल ही में सेवानिवृत्त हुए शिक्षकों की पेंशन संबंधित फाइल करने में उन पर उगाही के आरोप थे एबीआरसी पर उनके खिलाफ प्रदर्शन हुआ था। विवादों से काफी जुड़ा होने पर शासन में उनकी काफी शिकायत हुई तो अब उनका स्थानांतरण बुलंदशहर से देवरिया के लिए कर दिया गया है। स्थानांतरण होने के बाद कई संगठनों के पदाधिकारी व शिक्षकों ने खुशी का इजहार भी किया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Secunderabad Block's Block Education Officer Deoria Transferred