DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › बुलंदशहर › ईधन के बढ़ते दामों से पॉटरी उत्पादन मूल्य बढ़ा, उद्यमी परेशान
बुलंदशहर

ईधन के बढ़ते दामों से पॉटरी उत्पादन मूल्य बढ़ा, उद्यमी परेशान

हिन्दुस्तान टीम,बुलंदशहरPublished By: Newswrap
Sun, 01 Aug 2021 06:00 PM
ईधन के बढ़ते दामों से पॉटरी उत्पादन मूल्य बढ़ा, उद्यमी परेशान

इधनों के बढ़ते दामों ने पॉटरी उद्योग पर प्रभाव डाला है। पॉटरी उत्पादन मूल्य बढ़ा है। जिससे बाजार में पॉटरी उत्पाद की मांग की कम हो गया है। जिससे उद्यमी काफी परेशान हैं।

खुर्जा क्षेत्र में करीब 300 से अधिक पॉटरियां हैं। सभी पॉटरियों में पीएनजी गैस से भट्टियों का संचालन हो रहा है। गैस की बढ़ती कीमतों ने पॉटरी उत्पाद बनाने की लागात बढ़ा दी।

जिसके बाद पॉटरी उत्पाद को बाजार में बेचना मुश्किल हो गया है। ग्राहक पुराने दामों पर उत्पाद लेने की मांग करते हैं। ऐसे में पुराने दामों में उत्पाद को बेचना पॉटरी उद्यमियों के लिए मुश्किल हो रहा है। वहीं पेट्रोल और डीजल के दामों के बढ़ने से ट्रांस्पोर्ट का खर्चा भी बढ़ गया है।

जिसको देखते हुए बाजारों में पॉटरी उत्पाद की मांग लगातार गिर रही है। एसे में उत्पाद तैयार कर चुके उद्यमियों को माल बेचना मुश्किल हो गया है। जिससे उद्यमियों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

कोट:-

लागात ज्यादा आने पर उत्पाद का मूल्य ज्यादा हो गया है। ऐसे में ग्राहकों को पुराने दामों में पॉटरी उत्पाद बेचना मुश्किल है।

-राजीव बंसल, उद्यमी

गैस के बढ़ते दामों के चलते पॉटरी उत्पाद तैयार करने में लागात ज्यादा आ रही है। वहीं ग्राहक पुराने दामों में उत्पाद की मांग कर रहे हैं।

-निखिल पौद्दार, उद्यमी

---खास बातें----

-पीएनजी गैस के दाम बढ़ने से पॉटरी उत्पाद बनाने में लागत बढ़ी

-पेट्रोल और डीजल के दाम बढ़ने पर पॉटरी उत्पाद कम हो रहा है एक्सपोर्ट

-पॉटरी उत्पाद का प्रोडक्शन कम होने से उद्यमी परेशान, ज्यादा लागत में कम हो रहा उत्पादन

संबंधित खबरें