DA Image
2 दिसंबर, 2020|2:56|IST

अगली स्टोरी

विवादित ढांचा विध्वंस फैसले को लेकर अलर्ट रहा पुलिस-प्रशासन

default image

बुलंदशहर। संवाददाता

विवादित विध्वंस मामले में सीबीआई की विशेष अदालत के फैसले के चलते पुलिस-प्रशासन पूरी तरह अलर्ट रहा। बुधवार सुबह से ही सभी धार्मिक स्थलों, मिश्रित आबादी वाले क्षेत्रों समेत अन्य संवेदनशील स्थानों पर पुलिस बल तैनात रहा। पुलिस अधिकारी लगातार गश्त कर स्थिति पर नजर रखे रहे।

बुधवार को सीबीआई की विशेष अदालत द्वारा बाबरी विध्वंस मामले में फैसला सुनाया गया। इसमें आरोपी लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, कल्याण सिंह, उमा भारती, विनय कटियार समेत 32 हिंदूवादी नेताओं को बरी कर दिया गया। विशेष अदालत के फैसले को लेकर शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए जिला पुलिस पहले से ही अलर्ट मोड पर थी। बुधवार सुबह से ही धार्मिक स्थलों, प्रमुख बाजारों, मिश्रित आबादी वाले क्षेत्रों एवं अन्य संवेदनशील स्थानों पर पुलिस बल तैनात रहा। सिटी सर्किल में एसपी सिटी अतुल कुमार श्रीवास्तव के नेतृत्व में पुलिस टीमों ने लगातार गश्त कर स्थिति पर नजर बनाए रखी। नगर कोतवाली क्षेत्र में सीओ सिटी संग्राम सिंह और नगर कोतवाल अखिलेश कुमार त्रिपाठी तथा देहात कोतवाली क्षेत्र में निरीक्षक नरेंद्र कुमार शर्मा द्वारा पुलिस बल के साथ गश्त करते रहे। मिश्रित आबादी वाले क्षेत्रों में पुलिस बल हाई अलर्ट पर रहा। सोशल मीडिया पर अफवाह फैलने से रोकने के लिए साइबर टीम सक्रिय रही और लगातार व्हाट्सएप के कुछ चिन्हित ग्रुपों फेसबुक, ट्विटर आदि पर नजर बनाए रखी। एसएसपी संतोष कुमार सिंह ने बताया कि पुलिस बल पूरी तरह अलर्ट रहा।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Police-administration alert on disputed structure demolition decision