DA Image
19 सितम्बर, 2020|12:28|IST

अगली स्टोरी

शहर में चेते लोग, देहात टूटी सोशल डिस्टेंसिंग

default image

कोरोना संक्रमण बढ़ने के बीच अब संक्रमित मरीजों के ठीक होने की अच्छी खबरें आने लगी है। वहीं लोगों की लापरवाही संक्रमण बढ़ने का कारण बन सकती है। कोरोना को लेकर लोग शहर में तो चेत गए हैं लेकिन देहात क्षेत्रों में सामाजिक दूरी का बिल्कुल ध्यान नहीं रखा जा रहा है। इतना ही नहीं देहात क्षेत्रों में लोग घरों के बाहर घूम रहे हैं। पुलिस का सायरन बजने पर घरों को दौड़ते हैं। पुलिस के जाने के बाद फिर सड़कों पर आ जाते हैं। लोगों की यह ना समझी प्रशासन के लिए मुसीबत बन सकती है। शुक्रवार आपके प्रिय समाचार पत्र हिंदुस्तान द्वारा की गई पड़ताल पर एक रिपोर्ट। साठा, राधानगर, कसाईबाड़ा : समय 9:30 बजेइन क्षेत्रों में लोग कोरोना को लेकर सचेत नजर आए। यहां गलियां पूरी तरह सूनी थी चारों तरफ बस ताले ही ताले नजर आ रहे थे सिर्फ किराना स्टोर, मेडिकल स्टोर और सब्जी की दुकानें खुली हुई थी। लॉक डाउन का लोग पालन कर रहे थे। इक्का-दुक्का जो लोग नहीं मान रहे थे पुलिस उन्हें समझाकर घर भेज रही थी। सिकंदराबाद, वीरखेड़ा : समय 11:00 बजे हॉटस्पॉट क्षेत्रों में लोग घरों में कैद थे। धर्म के लिए जरूरी सामान प्रशासन की मदद से हासिल कर रहे थे। कुछ लोग कंट्रोल रूम पर फोन कर गांव की सील खुलने का समय पूछ रहे थे। तो कुछ लोग व्यवस्थाओं पर सवाल खड़े करते हुए शिकायत करते नजर आए। हालांकि यहां लॉकडाउन लोग पूरी तरह पालन करते नजर आए, लेकिन आस-पास के गांव में लोग बिना वजह घूमते हुए दिखे। पुलिस उन्हें घर भेजने के लिए समझा भी रही थी साथ ही ने मानने वालों पर सख्ती कर रही थी। शिकारपुर: समय 12:30 बजे शिकारपुर में सड़कों पर सन्नाटा पसरा हुआ था। गलियां सुनी थी। प्रशासन की ओर से सभी लोगों को घरों पर ही जरूरी सामान उपलब्ध कराने के भरसक प्रयास किए जा रहे थे लेकिन वह नाकाफी साबित हो रहे थे क्योंकि लोग कंट्रोल रूम पर जरूरी सामान न मिलने की शिकायत भी कर रहे थे। वही कोरोना को लेकर लोगों में डर भी नजर आ रहा था। पुलिस ने शिकारपुर क्षेत्र को चारों तरफ से बैरिकेडिंग लगाकर सील कर रखा था ना किसी को आने की इजाजत थी ना ही किसी को जाने की। जहांगीराबाद : समय : 1:30 बजे लॉक डाउन में लोगों के दिन काफी कठिन बीत रहे थे। हर कोई अपना दर्द बयां कर रहा था। प्रशासन की ओर से सभी समुचित व्यवस्थाएं की गई थी लेकिन फिर भी लोग परेशान नजर आ रहे थे। स्वास्थ्य विभाग की टीम लगातार क्षेत्रों में लोगों की स्क्रीनिंग कर रही थी क्षेत्र को सैनिटाइज में किया जा रहा था। पुलिस अपील कर रही थी कि लोगों को डरने की जरूरत नहीं है। मोतीबाग, मेडिसिन मार्केट : समय 2:00 बजे बाजार में कुछ दुकानें खुली नजर आ रही थी। इनमें इलेक्ट्रॉनिक्स रोजमर्रा की दुकानें थी। सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखते हुए दुकानदार बिक्री कर रहे थे। बाजारों में खरीदारी के लिए पहुंचे सभी लोगों के चेहरे पर मास्क थे। दुकानदार बिना मास्क वाले लोगों को सामान देने से बच रहे थे। वही मेडिसिन मार्केट में पुलिस सख्ती कर रही थी मार्केट के मेन रास्ते पर बैरिकेडिंग कर पुलिस लोगों को रोक रही थी। मार्केट में एक-एक करके ही लोगों को जाने दिया जा रहा था। - रिंकू कुमार

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:People warned in the city the country broke social distancing