ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेश बुलंदशहरपरोली में चढ़त रोकी, प्रधान समेत चार पर मुकदमा दर्ज

परोली में चढ़त रोकी, प्रधान समेत चार पर मुकदमा दर्ज

सलेमपुर थाना क्षेत्र के पारोली गांव में घर के आगे से दलित बेटी की चढ़त रोकने के आरोप में गांव प्रधान समेत चार लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया...

परोली में चढ़त रोकी, प्रधान समेत चार पर मुकदमा दर्ज
हिन्दुस्तान टीम,बुलंदशहरSat, 09 Dec 2023 12:10 AM
ऐप पर पढ़ें

शिकारपुर। सलेमपुर थाना क्षेत्र के पारोली गांव में घर के आगे से दलित बेटी की चढ़त रोकने के आरोप में गांव प्रधान समेत चार लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। उधर, पुलिस चढ़त रोकने जैसी घटना से इनकार कर रही है।

पारोली गांव निवासी शिवकुमार पुत्र सूरज पाल सिंह ने सलेमपुर थाना पुलिस को दिए प्रार्थना पत्र में कहा कि छह दिसंबर को उसकी बहन की शादी थी। आरोप है कि रात करीब साढ़े नौ बजे जब चढ़त हो रही थी तो आरोप है कि गांव प्रधान योगेंद्र शर्मा व उसके साथ तीन साथियों ने जाति सूचक शब्दों का प्रयोग करते हुए घर के सामने से चढ़त निकाले जाने की मनाही की। यह भी आरोप है कि पिस्टल लहराकर डराते धमकाते हुए जान से मारने की धमकी दी। इसके बाद पुलिस ने गांव प्रधान योगेंद्र शर्मा समेत तीन अज्ञात लोगों के खिलाफ विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है।

दूसरी ओर, सीओ शिकारपुर दिलीप सिंह का कहना है कि पुलिस द्वारा की गई जांच पड़ताल में सामने आया है कि चढ़त के दौरान गांव प्रधान अपनी गाड़ी से निकल रहे थे। गाड़ी निकालने पर दोनों पक्षों में विवाद हुआ। चढ़त को रोकने जैसी कोई घटना सामने नहीं आई है। घटना की वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हुई है।

सीओ ने बताया कि थाना प्रभारी पम्मी चौधरी को मामले की विवेचना करने के साथ मामला दर्ज करने के निर्देश दिए गए हैं। थाना प्रभारी ने बताया कि गांव प्रधान योगेंद्र शर्मा और तीन अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

दूसरी ओर, गांव प्रधान योगेंद्र शर्मा का कहना है कि गांव की राजनीति के तहत उन पर झूठे आरोप लगाए गए हैं। उन्होंने पुलिस से मामले की निष्पक्ष जांच कर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की है।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।