DA Image
2 अक्तूबर, 2020|6:47|IST

अगली स्टोरी

क्रय केंद्रों पर नहीं पहुंचा धान का दाना, अफसर करते रहे इंतजार

default image

बुलंदशहर। संवाददाता

जिले में धान खरीद गुरुवार से शुरू हो गई है। छह केंद्रों पर पहले दिन धान का एक भी दाना नहीं पहुंचा। जिले को 250 मीट्रिक टन धान खरीद का लक्ष्य मिला है। जिले में मोटा धान में होने के कारण प्रत्येक वर्ष खरीद शून्य रहती हैं। केवल खानापूर्ति के लिए जिले में क्रय केंद्र स्थापित किए जाते हैं।

शासन के आदेश पर जिला विपणन विभाग ने गुरुवार से जिले में धान खरीद शुरू करा दी हैं। किंतु जिले में पहले दिन किसी भी क्रय केंद्र पर धान नहीं पहंचा। विपणन विभाग ने जिले में धान की खरीद के लिए छह क्रय केंद्र बनाए हैं। बताया गया की बुलंदशहर में नई मंडी और एफएसडी इमलिया, सिकंदराबाद, अरनिया खुर्द, अनूपशहर और खुर्जा की नई मंडी में क्रय केंद्र स्थापित किए गए हैं। सरकार द्वारा धान का समर्थन मूल्य कामन धान के लिए 1868 और ग्रेड-ए के धान के लिए 1888 रुपये प्रति कुंतल किया है। धान खरीद के आदेश आने के बाद विभागीय अफसरों ने क्रय केंद्रों पर बारदाना पहुंचा दिया था। जबकि एजेंसियों को बजट भी आवंटित हो गया था। जिससे किसानों का धान खरीदने के बाद 24 घंटे में उनका भुगतान किया जा सके। किंतु धान खरीद के पहले ही दिन क्रय केंद्रों पर एक भी जाना नहीं पहुंचा। अफसर क्रय केंद्रों पर भी पहुंचे लेकिन वह कर्मचारियों को दिशा निर्देश देकर आ गए। बताया गया कि शासन द्वारा मोटे धान की खरीद की जाती है। लेकिन जिले में मोटे धान की पैदावार नहीं होती।

---

कोट

जिले में धान खरीद के लिए छह केंद्र बनाए गए हैं। 250 मीट्रिक टन खरीद का लक्ष्य मिला है। जिले में मोटा धान नहीं होता है। शासन की मंशा के अनुसार जिले में धान खरीद कराई जा रही है।

- जिया अहमद करीम, जिला विपणन अधिकारी

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Paddy grain did not reach the purchasing centers officers kept waiting