DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

युवक की अपहरण के बाद हत्या, गंगनहर में मिला शव

क्षेत्र के गांव सरायघासी से गत 16 जुलाई को अगवा युवक नीरज का शव बदायूं क्षेत्र में गंगा बैराज से बरामद हुआ है। गुन्नौर थाना पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। मामले में पुलिस ने सात युवकों को नामजद करते हुए अपहरण की रिपोर्ट दर्ज कराई थी, जिसमें से एक युवक को पुलिस पहले ही गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है। शव मिलने के बाद से परिजनों में कोहराम मचा हुआ है। हत्या के कारण का पता नहीं चल सका है।गांव सरायघासी निवासी नीरज उर्फ बोदी(30 वर्ष) गत 16 जुलाई को संदिग्ध परिस्थितियों में लापता हो गया था। दो दिन बाद भी उसके घर न लौटने और मोबाइल बंद होने पर परिजनों में हड़कंप मच गया। नीरज के भाई दिनेश ने गांव के ही दो लोगों पर घर आकर नीरज को उसकी ही कार में ले जाकर अपहरा करने का आरोप लगाया। बाद में मामले में गांव के ही सात लोगों पर रंजिशन अपहरण करने की रिपोर्ट दर्ज कराई, जिसमें नीरज के साथ किसी अनहोनी की आशंका जताई गई। कोतवाली पुलिस ने एक आरोपी को हिरासत में लेकर पूछताछ की। आरोपी से कोई जानकारी न मिलने पर पुलिस ने उसका चालान कर दिया। गुरुवार को पीड़ित परिजनों ने कोतवाली का घेराव कर हंगामा किया, जिसके बाद पुलिस कार्रवाई में तेजी आई। कोतवाली पुलिस ने कुछ संदिग्धों को हिरासत में लेकर पूछताछ की, जिसमें नीरज की हत्या कर शव को ब्रजघाट-गढ़मुक्तेश्वर गंगा में फेंकने की बात सामने आई। इसके बाद पुलिस ने ब्रजघाट से आने वाली गंगनहर में मृतक के शव की तलाश शुरू की। शनिवार शाम को बदायूं से सटे गुन्नौर थाना क्षेत्र की झाल में शव मिलने की सूचना मिली। पुलिस ने परिजनों को साथ ले जाकर शव की शिनाख्त कराई, जिसमें मृतक के दाएं बाजू पर गुदे नाम से उसकी शिनाख्त नीरज के रूप में हुई। इसके बाद पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।------------अपहरण के दो दिन बाद ही फैल गई थी हत्या की सूचनासिकंदराबाद। 16 जुलाई को गांव सरायघासी से नीरज उर्फ बोधी को अगवा किया गया। घटना के दो दिन बाद ही गांव में नीरज उर्फ बोधी की हत्या कर दिए जाने की बात फैल गई। इस पर कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंची थी, किंतु काफी प्रयास के बाद भी स्थिति स्पष्ट नहीं हो सकी थी। इसके बाद पीड़ित परिजनों ने नीरज का अपहरण कर उसके साथ किसी अनहोनी की आशंका जताई थी।----------चार दिन पूर्व ब्रजघाट क्षेत्र में जली अवस्था में मिली कारसिकंदराबाद। नीरज के भाई दिनेश उर्फ कलुआ ने बताया था कि गांव के ही रॉकी उर्फ राकेश व लाला 16 जुलाई की दोपहर घर पर आए थे। इन लोगों से बात करने के बाद नीरज अपनी सेंट्रो कार से उनके साथ घर से निकाला था। चार दिन पूर्व पुलिस ने जांच के बाद नीरज की कार गढमुक्तेश्वर क्षेत्र के ब्रजघाट के पास जली अवस्था में बरामद किया था। तभी से नीरज की हत्या का शव फेंकने जाने की आशंका जताई जा रही थी।कोट----नरौरा से आगे गुन्नौर सीमा के तहत झाल में मिले शव की शिनाख्त नीरज के रूप में हुई है। प्रारंभिक जांच में गांव की रंजिश के चलते हत्या किए जाने की आशंका है। पुलिस द्वारा जांच की जा रही है। जल्द ही घटना का खुलासा कर दिया जाएगा।- अवनीश गौतम, प्रभारी निरीक्षक,

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Murdered after kidnapping of youth, found dead in Ganganahar