DA Image
28 फरवरी, 2020|10:59|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आयुष्मान योजना से अपात्र लाभार्थी होंगे बाहर, गाइडलाइन जारी

default image

केन्द्र सरकार की महत्वकांक्षी आयुष्मान योजना में 2011 की मतगणना के आधार पर गरीब लोगों को शामिल किया गया था, लेकिन योजना में ऐसे भी लोग भी पात्र हो गये। जिनकी स्थिति फिलहाल में काफी ठीक है। कुछ बड़े व्यापारी भी इसमें शामिल हो गये। अब अपात्र लाभार्थियों को योजना से बाहर करने की कवायद शुरु कर दी गई है। सरकार की गाइडलाइन के आधार पर चिन्हित कर बाहर किया जाएगा।प्रधानमंत्री की आयुष्मान योजना में जनपद के 197530 लाभार्थी परिवार शामिल हैं। गरीबी रेखा के आधार पर मतगणना के हिसाब से योजना में शामिल कर लिया था, मगर शहर से लेकर देहात क्षेत्रों के कई ऐसे पात्र शामिल हो गये। जिनकी स्थिति वर्तमान में काफी ठीक है। वहीं कई व्यापारियों से लेकर सरकारी कर्मचारी तक इसमें शामिल हो गये। योजना में बड़ी संख्या में गरीबों के वंचित रहने के कारण काफी विरोध भी हुआ। प्रदेश और केन्द्र सरकार को पत्राचार किया गया। अब केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रायल की गाइडलाइन के आधार पर ऐसे लाभार्थियों को को चिन्हित किया जाएगा। इसके बाद योजना से नाम हटाये जाएंगे। सीएमओ डॉ. केएन तिवारी ने बताया कि योजना की शुरुआत में ही यह आदेश हो गया था, लेकिन कुछ दिन मामला शांता हुआ। अब फिर से गाइडलाइन जारी हुई है। योजना से ऐसे पात्रों को बाहर किया जाएगा। जिनकी फिलहाल स्थिति सही है और गरीबी रेखा से नीचे यापन करने वालों को इसमें शामिल किया जाएगा।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title: Ineligible beneficiaries will be excluded from Ayushman Yojana Guideline released