DA Image
28 अक्तूबर, 2020|8:19|IST

अगली स्टोरी

ढोल नगाड़े बजाकर भगाया जाएगा टिड्डी दल, टीम गठित

default image

राजस्थान और मध्यप्रदेश में टिड्डी दल पहुंचने के बाद जिला प्रशासन सतर्क हो गया है। किसानों को जागरूक करने और सतर्कता बरतने के लिए जिले में सीडीओ ने जिले में पांच टीमें गठित कर दी हैं। सभी तहसील और ब्लॉकों पर बचाव लिए गाइडलाइन भी जारी कर दी है। टिड्डी दल को किसान शोर के माध्यम भगा सकते हैं।पाकिस्तानी टिड्डी दल ने कुछ राज्यों में दस्तक दे दी है। कृषि रक्षा विभाग के अनुसार यह टिड्डी दल फसल के लिए बहुत नुकसानदायक है। जिस फसल पर यह टिड्डी दल बैठ गया वह फसल पूरी तरह से बरबाद हो जाती है। उत्तर प्रदेश की झांसी जिले में टिड्डी दल ने दस्तक भी दे दी है। जिसके बाद अब जिला प्रशासन पूरी तरह से सतर्क हो गया है। सीडीओ ने जिले में पांच टीमें गठित कर दी हैं। जिला कृषि रक्षा विभाग ने भी टिड्डी दल से बचाव के लिए दिशा निर्देश जारी कर दिए हैं। पीपीआे अमरपाल सिंह ने बताया कि किसान टिड्डी दिल से बचाव के लिए खेतों में धुआं कर सकते हैं। इसके आलावा ढोल एवं नगाड़े, ड्रम और डीजे बजा सकते हैं, यानि ध्वनि करके टिड्डी दल को भगाया जा सकता। दवाइयों का प्रयोग भी किसान फसलों पर कर सकते हैं। सीडीओ अभिषेक पांडे ने बताया कि टिड्डी दल की सतर्कता के लिए जिले में पांच टीमें बनाई गई हैं। जिसमें डीडी आरपी चौधरी, अश्वनी कुमार डीओ, पीपीओ अमरपाल सिंह, राकेश कुमार शर्मा और उदय प्रकाश शर्मा वरिष्ठ प्राविधिक शामिल हैं। सभी तहसील और ब्लॉक में किसानों को टिड्डी दल के बारे में जागरूक किया जा रहा है। जिला प्रशासन पूरी तरह से तैयार है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Grasshopper team will be driven away by drumming team formed