DA Image
8 अगस्त, 2020|6:35|IST

अगली स्टोरी

-सिकंद्राबाद बीईओ और प्राथमिक शिक्षक संघ के जिला अध्यक्ष के बीच चल रहा विवाद

default image

सिकंदराबाद बीईओ द्वारा उत्तर प्रदेश प्राथमिक शिक्षक के जिला अध्यक्ष को दिए गए नोटिस का विवाद बढ़ गया है। दोनों के बीच बढ़ती तनातनी को देखते हुए बीएसए ने बीईओ नोटिस पर जांच बैठा दी है। बीईओ प्रकाश चन्द को इसकी जांच सौंपी गई है। जिलाध्यक्ष ने सभी आरोपों को निराधार बताया है। संघ ने भी अब बीएसए कार्यालय पर अनशन की चेतावनी दी है। सिकंदराबाद खंड शिक्षा अधिकारी नरेंद्र कुमार द्वारा चार दिन पूर्व प्राथमिक शिक्षक संघ के जिला अध्यक्ष सुरेंद्र यादव को आठ बिंदुओं पर नोटिस जारी किया गया था। जिला अध्यक्ष ब्लॉक के संविलियवन विद्यालय खगुआसपुर में प्रधााध्यापक हैं। नोटिस में कहा गया की उनके द्वारा व्हाट्सएप ग्रुप में शिक्षा को छोड़कर अन्य विषय पर चर्चा की जाती है और सरकार की नीतियों का विरोध किया जाता है। खंड शिक्षा अधिकारी के खिलाफ भी उनके द्वारा शिक्षकों को भड़काया गया है। विद्यालय में छात्र छात्रों की संख्या भी काफी कम है और उनके द्वारा छात्र छात्राओं को ऑनलाइन व्हाट्सएप ग्रुप में पढ़ाई का लिंक नहीं भेजा जा रहा है। नोटिस में कहा गया कि उनके द्वारा शिक्षक शिक्षिकाओं को गुमराह करने कई पोस्ट डाली जाती हैं। जिसके कारण विद्यालयों में पढ़ाई का माहौल नहीं हैं। वही, बीईआे द्वारा जिलाध्यक्ष को नोटिस दिए जाने के बाद से दोनों तरफ से तनातनी चल रही है। कई दिन पूर्व संघ के पदाधिकारी बीएसए भी मिले थे और नोटिस में लगाए गए सभी आरोपों को फर्जी बताया था। संघ का कहना है कि बीईओ द्वारा शिक्षकों का उत्पीड़न किया जाता है, जब संघ इसका विरोध करता है तो नोटिस भेजे जाते हैं। मामले को ज्यादा तूल पकड़ते देख अब बीएसए ने खंड शिक्षा अधिकारी प्रकाश चंद को मामले की जांच सौंपी है। बताया गया की वह आठ बिंदुओं के नोटिस की जांच करेंगे और दोनों तरफ का पक्ष सुनकर रिपोर्ट सौंपेंगे। जिलाध्यक्ष सुरेंद्र यादव का कहना है कि बीईओ द्वारा द्वेष भावना के चलते नोटिस दिया गया है, सभी आरोप निराधार हैं। हमेशा उनका सहयोग विभाग को रहा हैं। शिक्षकों का उत्पीड़न भी नहीं होने दिया जाएगा।---- कोट बीईओ सिकंदराबाद द्वारा जो नोटिस दिया गया है उसकी जांच होगी। संघ का भी पक्ष सुना गया है। ज्ञापन मुझे मिला है। जांच रिपोर्ट आने के बाद ही आगे की कार्रवाई होगी।अखंड प्रताप सिंह, बीएसए-----मेरे द्वारा जो नोटिस दिया गया है वह बिल्कुल ठीक है। जिला अध्यक्ष द्वारा शिक्षकों को भड़काया जाता है। विद्यालय में बिल्कुल भी शिक्षा का माहौल नहीं है। मैं पूरी तरह से नोटिस की जांच कराने को तैयार हूं।नरेंद्र कुमार, बीईओ सिकंद्रबाद

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Controversy going on between the district president of Sikandrabad BYO and the Primary Teachers Association