DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › बुलंदशहर › जिले की 152 न्याय पंचायतों में बनेंगी खगोलीय लैब
बुलंदशहर

जिले की 152 न्याय पंचायतों में बनेंगी खगोलीय लैब

हिन्दुस्तान टीम,बुलंदशहरPublished By: Newswrap
Mon, 20 Sep 2021 03:50 AM
जिले की 152 न्याय पंचायतों में बनेंगी खगोलीय लैब

बेसिक स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों को अब खगोलीय जानकारी देने के लिए पंचायत राज एवं बेसिक शिक्षा विभाग जिले की 152 न्याय पंचायतों के स्कूलों में खगोलीय लैब का निर्माण कराएगा। विभाग द्वारा स्कूलों के चयन प्रक्रिया को शुरू कर दिया गया है। एक लैब पर साढ़े चार से पांच लाख रुपये तक पंचायत राज विभाग 15 वें वित्त आयोग की राशि से खर्च करेगा। सिकंदराबाद के छह स्कूलों में खगोलीय लैबों का निर्माण कराया जा चुका है।

परिषदीय स्कूलों में बच्चों को खगोलीय विज्ञान के बारे में पढ़ाने के लिए सिकंदराबाद ब्लॉक के छह बेसिक स्कूलों में सीडीओ की पहल पर खगोलीय प्रयोगशालाओं का निर्माण कराया जा चुका है। बच्चों को लैबों में आकाश गंगा और खगोलीय घटनाओं के बारे में पढ़ाया जा रहा है। मगर अब जिले की सभी 153 न्याय पंचायतों में पंचायत राज एवं बेसिक शिक्षा विभाग खगोलीय प्रयोगशालाओं का निर्माण कराएगा। लैब में खगोलीय घटनाओं को देखने के लिए नए उपकरण लगाए जाएंगे और बच्चों को खगोलीय घटनाओं के बारे में बताया जाएगा। 154 न्याय पंचायतों में से एक-एक स्कूल का चयन किया जाएगा और एक लैब पर साढ़े चार से पांच लाख रुपये तक खर्च होंगे। इनमें ऐसे स्कूलों को देखा जाएगा जिनमें जगह ज्यादा होगा और बच्चों की संख्या भी अधिक हो। डीपीआरओ ने बताया कि प्रयोगशालाओं को बनाने के लिए न्याय पंचायतों में स्कूलों को देखा जा रहा। इसी माह तक स्कूलों का चयन कर लिया जाएगा और फिर सीडीओ की निगरानी में प्रयोगशालाओं में कार्य शुरू होंगे।

सिकंदराबाद के छह स्कूलों को मिली सौगात

जिले में सबसे पहले सिकंदराबाद ब्लॉक छह परिषदीय स्कूलों को खगोलीय लैबों की सौगात मिली है। लैबों को पूरी तरह से तैयार किया जा चुका है और इनमें बच्चों के लिए नए-नए उपकरण लगाए गए हैं, जिनके माध्यम से बच्चों को खगोलीय घटनाओं के बारे में बताया जाता है। मगर अब जिले की सभी न्याय पंचायतों में लैब बनेंगी तो इससे बच्चों का ज्ञान काफी बढ़ेगा।

जिले की सभी न्याय पंचायतों के एक परिषदीय स्कूल में खगोलीय लैब का निर्माण कराया जाएगा। इसके लिए ब्लॉक स्तर पर तैयारियां शुरू की जा रही हैं। पंचायत निधि से यह कार्य होगा। न्याय पंचायतों पर स्कूलों में निरीक्षण कर स्थिति का जायजा लिया जा रहा है। जल्द ही निर्माण प्रक्रिया को शुरू करा दिया जाएगा।

-डा. प्रीतम सिंह, डीपीआरओ

संबंधित खबरें