DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  बुलंदशहर  ›  प्रतिबंधित थाई मांगुर मछली पालने पर प्रशासन की छापामार कार्रवाई
बुलंदशहर

प्रतिबंधित थाई मांगुर मछली पालने पर प्रशासन की छापामार कार्रवाई

हिन्दुस्तान टीम,बुलंदशहरPublished By: Newswrap
Fri, 18 Jun 2021 04:30 AM
प्रतिबंधित थाई मांगुर मछली पालने पर प्रशासन की छापामार कार्रवाई

सिकंदराबाद । संवाददाता

तहसील क्षेत्र के गांव चंदेरू स्थित निजी तालाब में पाली जा रही प्रतिबंधित थाई मांगूर मछली की सूचना पर अफसरों ने डीएम के निर्देश पर छापामार कार्रवाई की ।अफसरों ने प्रतिबंधित थाई मांगुर मछलीओं को तालाब से निकलवा कर दबवा दिया ।मत्स्य विकास अधिकारी ने प्रतिबंधित मछलियों के पालन और देखरेख के आरोप में तीन लोगों के खिलाफ कार्रवाई के लिए कोतवाली में तहरीर दी। सहायक मत्स्य अधिकारी नीतू सिंह ने बताया कि गांव चंदेरू में प्रतिबंधित प्रजाति की मछली थाई मांगुर के पालन की सूचना मिली थी । मछली की इस प्रजाति के पालन पर एनजीटी द्वारा प्रतिबंध लगाया हुआ है। सूचना के बाद मत्स्य विभाग द्वारा सर्वे कराया गया ।सर्वे में जानकारी सही मिली। इस प्रजाति के पालने वाले मछलियों को सड़ा गला मीट खिलाते हैं। जिससे संक्रमण फैलने का खतरा रहता है साथ ही पर्यावरण को भी हानि पहुंचती है। कार्रवाई के लिए डीएम ने सिकंदराबाद एसडीएम के नेतृत्व में टीम का गठन किया।

गुरुवार की सुबह एसडीएम रवि शंकर सिंह ,सीओ नम्रता श्रीवास्तव तथा मत्स्य विभाग के कर्मी समेत भारी पुलिस बल गांव चंदेरू स्थित तालाब पर पहुंचा। तालाब से अफसरों की निगरानी में प्रतिबंधित थाई मांगुर प्रजाति की करीब 12 कुंटल मछलियों को बाहर निकलवा कर जेसीबी से गड्ढा खुदवाकर नष्ट करा दिया गया। बताया कि गांव चन्देरू निवासी ने अपना निजी तालाब दूसरे को किराए पर दे रखा था। जिसने तालाब में प्रतिबंधित मछलियों का पालन कर रखा था। आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई अमल में लाई जा रही है। अफसरों की निगरानी में करीब दो घंटे कार्रवाई चली। मत्स्य विकास अधिकारी निखिल त्रिपाठी ने मछली पालन करने और देखरेख करने वाले तीन लोगों के खिलाफ कार्रवाई के लिए तहरीर कोतवाली में दी है ।पुलिस तीनों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की तैयारी में जुटी है।

संबंधित खबरें