Two women die due to excess bleeding during childbirth - प्रसव के दौरान अधिक रक्तस्राव होने से दो महिलाओं की मौत DA Image
11 दिसंबर, 2019|11:05|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

प्रसव के दौरान अधिक रक्तस्राव होने से दो महिलाओं की मौत

अधिक रक्तस्राव के चलते प्रसव के दौरान दो नवजात शिशुओं सहित दो प्रसूताओं की मौत हो गई। इससे मृतकों के घर पर कोहराम मचा गया। उधर पीएचसी प्रभारी डॉ. रजनीश ने प्रसव के दौरान अधिक रक्तस्राव होने से एक प्रसूता की मौत की पुष्टि की है।

गांव कासमपुरगढ़ी स्थित बस स्टेंड निवासी नौशाद का लगभग दो साल पहले निकाह हुआ था। गर्भधारण के बाद जांच कराये जाने पर पत्नी नाजरीन की स्थिति बिल्कुल सामान्य बताई गई थी। इसके चलते प्रसव पीड़ा होने पर गुरुवार को रात पत्नी को आशा के माध्यम से यहां स्थित प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में भर्ती कराया गया था। इसी बीच प्रसव के दौरान नवजात की मौत हो गई तथा प्रसूता की हालत बिगड़ने लगी। महिला चिकित्सक के न होने सहित लगातार हालत बिगड़ते देख गंभीरावस्था के चलते उसको रेफर कर दिया गया, लेकिन उपचार के लिए काशीपुर ले जाते समय रास्ते में उसकी मौत हो गई। दूसरी ओर गांव मानियावाला निवासी फरियाद की पत्नी यास्मीन को प्रसव पीड़ा होने पर परिजन काशीपुर ले गए। जहां इंफेक्शन के चलते प्रसूता सहित नवजात की मौत हो गई। सरकार द्वारा जननी सुरक्षा योजना के तहत प्रसूताओं को अनेक सुविधायें देने के बावजूद पीएचसी अथवा सीएचसी पर कोई महिला चिकित्सक तैनात नही हैं। महिला चिकित्सकों की तैनाती न होने के बावजूद स्वास्थ्य केन्द्रों पर गर्भवती महिलाओं को प्रसव के लिए आशा अथवा एएनएम के हवाले कर दिया जाता है। जिसके चलते प्रसव के दौरान प्रसूता को भारी पीड़ा के दौर से गुजरना पड़ता है। अनेक लोगों ने घटना पर गहरा दुख जताते हुए जिला प्रशासन सहित स्वास्थ्य विभाग के आला अधिकारियों से यहां स्थित पीएचसी तथा सीएचसी में महिला चिकित्सकों की तैनाती किये जाने की मांग की है। उधर पीएचसी प्रभारी डॉ. रजनीश ने प्रसव के दौरान अधिक रक्तस्राव होने से एक प्रसूता की मौत की पुष्टि की है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: Two women die due to excess bleeding during childbirth