DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एचटी लाइन की चपेट में आने से तीन किशोरों की मौत

एचटी लाइन की चपेट में आने से तीन किशोरों की मौत

बाग में अपने दादा को बाइक से नाश्ता देने जा रहे तीन किशोरों के हाईटेंशन लाइन के टूटे पड़े तार की चपेट में आने के बाद करंट लगने से मौके पर ही तड़प-तड़पकर मौत हो गई। मृतकों में दो सगे भाई तथा उसका रिश्ते का भाई शामिल है। घटना से गुस्साएं ग्रामीणों ने पीड़ित परिवार को मुआवजा दिलाने, विद्युत अधिकारियों को मौके पर बुलाने की मांग को लेकर ग्राम गोयली में फीना मार्ग पर अनेक स्थानों पर कई घंटों तक जाम लगाया तथा शवों को नहीं उठने दिया।

सूचना पर विधायक कमलेश सैनी, सीओ राज कुमार सिंह, एसएचओ शैलेन्द्र प्रताप भारी पुलिस बल व पीएसी के साथ मौके पर पहुंचे तथा भीड़ को समझाने का प्रयास किया। लेकिन, ग्रामीणों ने बिना मुआवजा की राशि मिले शवों को नहीं उठने दिया। 

ग्राम गोयली निवासी सईद अहमद ने सिकंदरपुर उर्फ औरंगाबाद में आम का बाग ले रखा है। बुधवार सुबह साढे सात बजे फिरासत उर्फ सैफल के पुत्र सादि 14 वर्ष, शारिक 14 वर्ष व लडड्न का 12 वर्षीय पुत्र आसिफ बाइक से अपने दादा सईद के लिए नाश्ता लेकर जा रहे थे। जब इनकी बाइक ग्राम सैदपुर के जंगल में बाग के समीप चकरोड पर जा रही थी।

चकरोड पर हाईटेंशन बिजली लाइन का तार टूटा पड़ा जो इन्हें दिखाई नहीं दिखाया और बाइक तार पर चढ़ गई। बाइक के तार पर चढ़ते ही बाइक उसमें फंस गई और तीनों लाइन में आ रहे करंट की चपेट में आ गए और पलक झपकते ही तड़प-तड़पकर तीनों की मौके पर ही मौत हो गई। आसपास खेतों पर काम कर रहे लोग दौड़कर वहां पहुंचे। लेकिन तार में आ रहे करंट के कारण वे कुछ खास नहीं कर सके। उन्होंने इसकी सूचना विद्युत विभाग को दी। आरोप है कि विभाग ने सूचना दिए जाने के बाद बिजली बंद नहीं की गई। जिसके कारण लोगों को परेशानी का सामना करना प़ड़ा। 

जब तीन किशोरों की मौत की सूचना गांव गोयली पहुंची तो मानो कोहराम मच गया और हजारों लोग जिनमें बच्चें, बूढे, महिलाएं शामिल थीं मौके पर पहुंचे। आरोप है कि पुलिस भी सूचना दिए जाने के काफी देर से मौके पर पहुंची। इससे ग्रामीणों का गुस्सा सातवें आसमान पर पहुंच गया और उन्होंने ग्राम गोयली में फीना मार्ग पर कई जगह अनेक स्थानों पर जाम लगा दिया।

ग्रामीणों ने विद्युत विभाग के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए पीड़ित परिवार को मुआवजा दिलाए जाने की मांग करने लगे। सूचना पर विधायक कमलेश सैनी, सीओ, एसएचओ, भारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। लेकिन ग्रामीण शांत नहीं हुए और वरिष्ठ विद्युत अधिकारियों को मौके पर बुलाने की मांग करने लगे। ग्रामीणों का आरोप है कि जिस लाइन का तार टूटकर गिरा है वह 11 हजार व हाईवोल्टेज की लाइन का तार नहीं है। इसको कई बार बदलने की मांग की गई। लेकिन, क्षेत्र के विद्युत कर्मचारी इनको बदलने के लिए मोटी राशि की मांग कर रहे थे।

पुलिस ने शव को उठाने का प्रयास किया। लेकिन, ग्रामीणों ने शव नहीं उठने दिए। सूचना पर पूर्व पालिकाध्यक्ष शेरबाज पठान मौके पर पहुंचे और पीड़ित परिवार को ढांढस बंधवाते हुए मुआवजा दिलाने का आश्वासन दिया। विधायक कमलेश सैनी ने पीड़ित परिवार को अपनी ओर से मुआवाजा दिलाने व लाइन को शीघ्र बदलवाए जाने का आश्वासन दिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Three teenagers die due to HT line grip