DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कोर्ट से चेयरपर्सन रुखसाना को समन, पति शमशाद के जमानती वारंट

कागजों के हेर-फेर और नकली दस्तावेज के प्रकरण में दर्ज मुकदमे में गुरुवार को नगरपालिका बिजनौर चेयरपर्सन रुखसाना व उनके पति शमशाद अंसारी दोनों ही कोर्ट में पेश नहीं हुए। सीजेएम कोर्ट ने चेयरपर्सन रुखसाना के पूर्व की भांति समन जारी किए हैं, जबकि शमशाद अंसारी के जमानती वारंट जारी किए गए हैं।

अगली तारीख 14 अगस्त निर्धारित की गई है।जिला बार एसोसिएशन अध्यक्ष एसके बबली ने चेयरपर्सन रुखसाना व उनके पति शमशाद अंसारी के खिलाफ फर्जी जन्म प्रमाण पत्र मामले में कागजों के हेरफेर और नकली दस्तावेज देने की तहरीर दी थी। पुलिस ने आईपीसी की धारा 420,467,468,471,120 बी, 196, 200 तथा 125 ए लोकप्रतिनिधित्व अधिनियम के तहत थाना कोतवाली शहर में यह रिपोर्ट दर्ज की थी। जांच के बाद पुलिस ने इन आरोपों को सही पाते हुए उक्त धाराओं में चार्जशीट सीजेएम कोर्ट में दाखिल कर दी थी। सीजेएम कोर्ट ने संज्ञान लेते हुए चेयरपर्सन व उनके पति दोनों को 18 जुलाई 2019 को न्यायालय में पेश होने के आदेश पारित किए थे। गुरुवार को दोनों में से कोई भी कोर्ट में पेश नहीं हुआ। इस पर मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट राजू प्रसाद ने चेयरपर्सन रुखसाना के पूर्व की भांति समन जारी किए, जबकि शमशाद अंसारी के जमानती वारंट जारी करते हुए आगामी 14 अगस्त को कोर्ट में तलब किया है। उधर इस सम्बंध में चेयरपर्सन रुखसाना व शमशाद अंसारी दोनों का कहना है, कि उन्हें कोर्ट के सम्मन प्राप्त नहीं हुए थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: Summon to chairperson Rukhsana from court