DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अधिक वसूली पर भड़के रेलवे बोर्ड सदस्य

रेलवे बोर्ड सदस्य टूरिज्म एंड कैटरिंग रेलवे स्टेशन नजीबाबाद पहुंचे उन्होंने रेलवे स्टेशन पर पानी, भोजन की गुणवत्ता व अन्य व्यवस्थाओं का जायजा लिया। निरीक्षण के दौरान प्लेटफॉर्म पर पानी की टोंटी सूखी होने, भोजनालय में निर्धारित शुल्क से ज्यादा रुपये यात्रियों से वसूले जाने पर होने नाराजगी व्यक्त की।

उन्होंने स्टेशन अधीक्षक को व्यवस्थाओं को दुरुस्त रखने के निर्देश दिए। सोमवार रात रेलवे बोर्ड के टूरिज्म एंड कैटरिंग सदस्य संजीव गर्ग रेलवे स्टेशन नजीबाबाद पहुंचे। उन्होंने निरीक्षण के दौरान भोजन की गुणवत्ता, सफाई व्यवस्था और उन्होंने पेयजल व्यवस्था को प्रमुखता से देखा।

उन्होंने स्टेशन परिसर में रेलवे की ओर से संचालित भोजनालय का निरीक्षण किया। जहां सफाई व्यवस्था दुरुस्त नहीं मिली। जनआहर कैंटीन में भोजन कर रहे यात्रियों से थाली के मूल्य के बारे में पूछा तो उन्होंने 40 रुपये वसूले जाने की बात कही। जबकि थाली का निर्धारित मूल्य रेट लिस्ट में 35 रुपये है।

उन्होंने कैन्टीन संचालक पर नाराजगी व्यक्त की।

पेयजल व्यवस्था में मिली खामियां

भीषण गर्मी के समय में भी प्लेट फार्म संख्या एक पर लगी पानी की टोटियों के गले सूखे हुए मिले। उन्होनें स्वयं टोंटी खोल कर देखा तो उसमें से पानी नहीं आ रहा था। इसके लिए उन्होंने संबंधित अधिकारी को तलब किया और पेयजल व्यवस्था दुरुस्त कराने के निर्देश दिए। उन्होंने गर्मी में यात्रियों को पानी नहीं मिलने को शर्मनाक बताया।

प्लेटफॉर्म पर बीच में खड़े ठेले हटवाएरेलवे बोर्ड के सदस्य संजीव गर्ग ने प्लेटफॉर्म पर चाय आदि के ठेले बीच रास्ते में खड़े देखकर तुरंत रास्ते से हटवा कर एक ओर खड़े करवाए। बीच रास्ते में खड़े ठेले से यात्रियों को ट्रेन से उतरकर आने व ट्रेन में चढ़ने के दौरान परेशानी होगी।

उन्होंने कहा कि रेलवे यात्रियों की सुरक्षा उन्हें हर सम्भव सुविधाएं देने को तत्पर है। उन्होंने स्टेशन अधीक्षक आरके मीणा को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। इस अवसर पर सीएमआई मनीष पंथ के अलावा रेलवे अधिकारी मौजूद रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: Railway Board Member overflowing on more recovery