DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ग्रामीणों की शिकायत पर पहुंचे एसडीएम, ओवर लोड वाहन सीज

ग्रामीणों की शिकायत पर पहुंचे एसडीएम, ओवर लोड वाहन सीज

ग्रामीणों की शिकायत पर मौके पर पहुंचे एसडीएम और आरटीओ ने ओवर लोड वाहनों को सीज कर दिया। ग्रामीणों ने ओवर लोड वाहन से कुछ माह पूर्व बनी सड़क के क्षतिग्रस्त होने की समस्या रखते हुए उक्त मार्ग पर ओवर लोड संचालन पर रोक लगाने की मांग की थी।

पूर्वी गंग नहर पटरी के दक्षिणी छोर पर बसे गांव पूरनपुर, रानीपुर समेत कई अन्य गांवों के ग्रामीणों ने एसडीएम को दी शिकायत में कहा था कि उत्तराखंड से रेत-बजरी से लदे ओवरलोड वाहनों के संचालन से उक्त सड़क कई स्थानों से टूटने लगी है। इस कारण क्षेत्र के ग्रामीणों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। इसे गंभीरता से लेते हुए बुधवार को एसडीएम एवं एआरटीओ ने पत्थर और ईंट से लदे पांच ओवरलोड वाहन पकड़े और मंडी समिति में खड़े करवा दिए।

इस दौरान मंडी समिति में पहुंचे ट्रक मालिकों से हुई बातचीत के दौरान एसडीएम ने ओवरलोड पर रोक लगाने की हिदायत दी। प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि बुधवार की सुबह पूरनपुर के ग्रामीणों ने इस मार्ग से गुजर रहे ओवरलोड ट्रकों को रोकने के बाद पुलिस को सूचित किया था। सूचना पर थाने में तैनात दारोगा शहजाद अली मौके पर पहुंचे थे और उन्होंने रानीपुर में खड़े ओवरलोड ट्रकों को पकड़ने से इंकार कर दिया था। इस दौरान किसी ने एसडीएम और एआरटीओ को सूचित किया। इस सूचना पर एसडीएम डॉ. पंकज कुमार वर्मा और एआरटीओ आरके चौबे ने इस मार्ग से गुजर रहे पत्थर से लदे चार ट्रक और ईंट से लदा एक ओवरलोड ट्रक सीज करने की कार्रवाई की। इस दौरान एसडीएम एवं एआरटीओ ने ट्रक मालिकों को हिदायत दी, कि वह ओवरलोडिंग पर रोक लगाए, अन्यथा ओवरलोड पकड़ने पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी।स्थाई समाधान के लिए बुलाई बैठकओवर लोड ट्रक सीज होने के बाद मौके पर पहुंचे ट्रक यूनियन के लोगों को एसडीएम ने स्थाई समाधान के लिए तहसील परिसर पहुंचने के लिए कहा। उपरोक्त संबंध में एसडीएम ने वाहनों के सीज होने को स्थाई समाधान नही होने की बात कही। जिस पर सभी ट्रक यूनियन को 1 जून को तहसील परिसर में एकत्रित होने तथा बैठक कर ओवर लोडिंग का स्थाई समाधान निकालने पर विचार विमर्श करने के लिए कहा। ग्रामीणों ने बैरियर लगाने की मांगओवर लोड वाहनों से छुटकारा पाने के लिए ग्रामीणों ने पूर्व की भांति मार्ग पर बैरियर लगाने की मांग की। ग्रामीणो का कहना है कि पूर्व में इस मार्ग पर बैरियर होने के चलते ओवर लोड वाहन का संचालन नही था जिससे क्षतिग्रस्त नही होती थी, लेकिन पिछले कई माह से इस मार्ग पर संचालित ओवर लोड वाहन ने सड़क को पूरी तरह क्षतिग्रस्त कर दिया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Over Load Vehicle Seed On Village Complaint