DA Image
30 सितम्बर, 2020|4:57|IST

अगली स्टोरी

दिल्ली में हुए डबल मर्डर में बिजनौर के बास्टा के भी एक व्यक्ति की हुई हत्या

default image

दिल्ली के रघुवीर नगर इलाके में हुए डबल मर्डर में बास्टा के भी एक व्यक्ति की हत्या हुई है। आरोप है कि मृतक की बहन के देवर ने ही इस हत्याकांड को अंजाम दिया। मृतक दिल्ली में फेरी लगाकर प्याज और लहसुन बेचने का काम करता था। परिजन शव को लेने के लिए मंगलवार की सवेरे ही दिल्ली रवाना हो गए।

बिजनौर के कस्बा बास्टा निवासी आजम दिल्ली के रघुवीर नगर थाना क्षेत्र में किराए पर कमरा लेकर रहता था। इसी कमरे में अमरोहा के गांव कुआ खेड़ा निवासी अमीर हसन और चुचैला निवासी शाकिर रहते थे। बताया गया कि शाकिर आजम की बहन का देवर है। परिजनों का आरोप है, कि शाकिर ने आजम और अमीर हसन दोनों की धारदार हथियार से हत्या कर दी। थाना रघुबीर नगर पुलिस को सोमवार की शाम 8:00 बजे इस डबल मर्डर की जानकारी हुई। बताया गया कि शाकिर हत्या करने के बाद कमरे में ताला लगाकर भाग आया था। हालांकि दिल्ली पुलिस ने शाकिर को गिरफ्तार कर लिया है। उधर डबल मर्डर में बास्टा के आजम की हत्या होने से कस्बे में शोक की लहर दौड़ गई। वहीं परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। मंगलवार सवेरे ही परिजन आजम का शव लेने दिल्ली रवाना हो गए थे। हत्या क्यों की गई, इसकी वजह साफ नहीं हो पाई है। बताया गया कि आजम दिल्ली में रहकर फेरी लगाकर प्याज और लहसुन बेचने का काम करता था। 20 साल पहले कर्ज के बोझ में दबे होने के कारण वह दिल्ली चला गया था। हालांकि आजम के बच्चे बास्टा में ही रहते हैं।32 साल पहले हुई थी वालिद की हत्याआरोप है, कि बास्टा के आजम अली की दिल्ली में उसके बहन के देवर ने ही धारदार हथियार से वार कर हत्या कर दी। आजम के परिवार में हत्या 32 साल बाद फिर दोहराई गई है। साल 1988 में आजम अली के वालिद फत्तू चौधरी की बदमाशों ने घर के पास ही गोली मारकर हत्या कर दी थी।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:One person from Basta of Bijnor was also killed in double murder in Delhi