अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

करुण क्रंदन देख हर आंख हुई नम

करुण क्रंदन देख हर आंख हुई नम

1 / 2जिला अस्पताल की मोर्चरी में एक साथ रखे छह शव। मोर्चरी के बाहर विलाप करती महिलाएं। इनके सगे संबंधी ही नहीं दूसरे लोग भी इनका करुण विलाप देखकर अपने आंसू नहीं रोक...

करुण क्रंदन देख हर आंख हुई नम

2 / 2जिला अस्पताल की मोर्चरी में एक साथ रखे छह शव। मोर्चरी के बाहर विलाप करती महिलाएं। इनके सगे संबंधी ही नहीं दूसरे लोग भी इनका करुण विलाप देखकर अपने आंसू नहीं रोक...

PreviousNext

जिला अस्पताल की मोर्चरी में एक साथ रखे छह शव। मोर्चरी के बाहर विलाप करती महिलाएं। इनके सगे संबंधी ही नहीं दूसरे लोग भी इनका करुण विलाप देखकर अपने आंसू नहीं रोक पाए। अस्पताल परिसर में चारों ओर करुण क्रंदन देख हर आंख नम हो गई।

बुधवार की तड़के साढ़े बजे मोहित पेट्रोकैमिकल में काम करने वाले कर्मचारियों के छह शव अस्पताल पहुंचे। डाक्टरों ने देखते ही मृत घोषित कर दिया। इसके बाद मोर्चरी में इन शवों को रखवा दिया गया। जानकारी मिलने पर एक-एक के परिजन रोते-बिलखते अस्पताल पहुंचते रहे। मोर्चरी में किसी के बेटे, भाई, पति आदि के शव रखे हुए थे। शवों को देखते ही परिजनों और रिश्तेदारों ने विलाप शुरु कर दिया। महिलाएं दहाड़े मारकर रोनी लगी। जिनके पति हादसे में मर गए, उन महिलाओं ने अस्पताल में ही अपनी चूड़िया तोड़ीं, जिसे देखा नहीं गया। अस्पताल में जुटी दूसरे कर्मचारियों और ग्रामीणों की भीड़ भी यह मंजर देख रो पड़ी। एक महिला ने तो मोर्चरी में जाकर अपने पति की लाश को गले लगा लिया और विलाप करने लगी। महिला पति के द्वारा दिखाए गए सपनों और बातों को सुनाकर मृत पड़े पति से जवाब मांग रही थी। यह देखकर मौजूद लोग भी आड़ में जाकर अपने आंसू पोंछते नजर आए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Karun Krandan Sun Hain Akhen Gaya Hello