DA Image
25 अक्तूबर, 2020|4:37|IST

अगली स्टोरी

बिजनौर जिले में होगी गुलदारों की गणना, लगाए जाएंगे ट्रैप कैमरे

default image

जिले में बहुत जल्द गुलदार की गणना वन विभाग के अफसर शुरू कराएंगे। जिले में करीब 40 से 50 स्थानों पर टैªप कैमरे लगाकर गुलदार की गणना की जाएगी।

जिले में गुलदार की संख्या में तेजी से इजाफा हो रहा है। जिले में गन्ना बाहुल्य क्षेत्र है और यह क्षेत्र गुलदार के लिए वनों से भी ज्यादा मुफीद है। गुलदार को किसानों के गन्ने के खेत में पर्याप्त शिकार मिलता है। आबादी से सटे गन्ने के खेतों में गुलदार अपने परिवार के साथ ज्यादा देखे जाते हैं। गुलदार को गन्ने के खेत मेें आसरे के साथ कुत्ते, बकरी, नीलगाय, हिरन, गाय के बछडे़ आदि शिकार के रूप में पर्याप्त रूप से मिलते हैं। वन विभाग के अफसरों का भी मानना है कि गुलदार की संख्या में पहले की अपेक्षा में इजाफा हुआ है। वन विभाग के अफसर जल्द ही गुलदार की गणना जिले में शुरू करेंगे। बतादें कि हीमपुर दीपा, नजीबाबाद, नगीना, नहटौर, अफजलगढ़, अमानगढ़, गंज, चंदक, मोहंडिया, नांगल सोती, हल्दौर, भरैरा आदि वह स्थान जहां गुलदार ग्रामीणों द्वारा देखे जाते हैं वहां टैªप कैमरे लगाकर गुलदार की गणना की जाएगी। ऐसा माना जा रहा है कि जिले में गुलदार की संख्या 100 से अधिक हो गई है। गुलदार की गणना में एक माह का समय लगेगा।

- जल्द ही जिले में गुलदार की गणना की जाएगी। एक माह में गणना का काम पूरा होगा। जिले में जिन स्थानों पर गुलदार ज्यादा दिखाई देते हैं वहां टैªप कैमरे लगाकर गुलदारों की गणना की जाएगी। पहले की अपेक्षा जिले में गुलदारों की संख्या में इजाफा होने की उम्मीद है। गन्ने के सीजन में गुलदार ज्यादा दिखाई देते हैं।

:: एम सेम्मारन, डीएफओ बिजनौर

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Guldars will be counted in Bijnor district trap cameras will be installed