Friday, January 28, 2022
हमें फॉलो करें :

मल्टीमीडिया

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेश बिजनौरखादर भूमि पर संघर्ष की आशंका, यूपी उत्तराखंड प्रशासन अलर्ट

खादर भूमि पर संघर्ष की आशंका, यूपी उत्तराखंड प्रशासन अलर्ट

हिन्दुस्तान टीम,बिजनौरNewswrap
Sun, 05 Dec 2021 09:35 PM
खादर भूमि पर संघर्ष की आशंका, यूपी उत्तराखंड प्रशासन अलर्ट

खादर क्षेत्र में गंगा प्रवाह कम होते ही कृषि भूमि कबजाने की होड़ में यूपी और उत्तराखंड के लोगों के बीच टकराव की स्थिति भांपते हुए दोनों सूबों के प्रशासनिक अधिकारियों ने दौरा कर विवाद निपटारे की ओर कदम बढ़ाए हैं।

प्रत्येक वर्षों की भांति इस बार भी यूपी और उत्तराखंड के लोग गंगा प्रवाह से छूटी कृषि भूमि को कबजाने की होड़ में हैं। इसको लेकर ही 28 नवंबर को उत्तराखंड के आधा दर्जन से अधिक दबंगों ने यूपी के ज्ञान सिंह और हुकम सिंह दो किसानों पर जानलेवा हमला बोलते हुए गंभीर घायल कर दिया था। इसमें नांगल थाना पुलिस ने उत्तराखंड के रणजीत पुर निवासी आठ लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की थी। इसके बाद से ही यूपी और उत्तराखंड प्रशासन स्तर पर इस विवाद के निपटारे की ओर प्रशासनिक अधिकारियों के कदम बढ़ गए थे। इसमें ही रविवार को उत्तराखंड के लक्सर सीओ बहादुर सिंह चौहान, एसडीएम वैभव गुप्ता, लक्सर कोतवाली थाना इंस्पेक्टर यशपाल सिंह बिष्ट, कानून गो सुधीर रावत, लेखपाल दीपक कुमार तथा यूपी के नजीबाबाद सीओ गजेंद्र पाल सिंह, एसडीएम मनोज कुमार, कानूनगो नरेंद्र कुमार, लेखपाल विनीत पंकज तथा ललित कुमार आदि दोनों सूबो के प्रशासनिक अमले नांगल थाने में इकट्ठा हुए। थाने से खादर की विवादित कृषि भूमि पर पहुंचने की रूपरेखा बनाई गई तथा इस दशको पुराने विवाद को पूरी तरह निपटाने पर विचार विमर्श किया गया।

इसके बाद यूपी सहित उत्तराखंड के लोगों को लेकर मौके पर पहुंचा गया। जहां दोनों सूबों के लोग विवादित भूमि को अपना बताते हुए आमने सामने खड़े नजर आए। इसके साथ ही दोनों ओर के प्रशासनिक अधिकारियों ने जल्द ही भूमि की नापतोल शुरू कराने तथा नापतोल पूरी होने तक मौके पर यथा स्थिति कायम रहने की बात कही।

epaper

संबंधित खबरें