FBI trying to defraud as ACP - मैं एफबीआई में एसीपी हूं, मर्डर के सिलसिले में यहां हूं DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मैं एफबीआई में एसीपी हूं, मर्डर के सिलसिले में यहां हूं

मैं एफबीआई में हूं। दिल्ली में एक एसीपी के मर्डर मामले की जांच कर रहा हूं। आपके बेटे के खिलाफ मेरे पास पुख्ता सबूत हैं। उसका नाम निकलवाना है तो मुझे दो लाख रुपये दे दो। लगभग सात माह से फूलबाग कॉलोनी में किराए के मकान में रह रहे एक युवक ने अचानक ये बातें करना शुरू कीं तो मकान मालिक बुरी तरह डर गया। कार्ड देखा तो उसपर भी आइपीएस लिखा था। विश्व हिंदू महासंघ के नगराध्यक्ष अपने कुछ साथियों के साथ इस युवक से बातचीत करने पहुंचे तो यह एक ठग निकला। फूलबाग कॉलोनी निवासी लेखराज सिंह के मकान में करीब सात माह पहले एक युवक किराए पर रहने के लिए आया। लेखराज सिंह के अनुसार इस युवक ने खुद को शुगर मिलकर्मी बताया। वह कई दिन से यहां रह रहा था, लेकिन विग्त शुक्रवार को अचानक इस युवक ने लेखराज को बताता कि वह एफबीआई का अधिकारी है जो तमिलनाडू में पोस्टेड है। उसने एक कार्ड भी दिखाया, जिस पर एसीपी लिखा हुआ था। आइपीएस भी एक कोने में लिखा था। लेखराज सिंह से कहा कि तुम्हारे बेटे के खिलाफ दिल्ली में एक एसीपी के मर्डर के मामले में पर्याप्त सबूत हैं। उसे बचाना है तो दो लाख रुपये दे दो।लेखराज ने ये बात स्थानीय नेता अर्पित गुप्ता को बताई। इसपर इस बात का खुलासा हुआ कि दावा करने वाला युवक हरेवली के एक गांव का निवासी है जो नगर क्षेत्र के एक कॉलेज से बीएससी कर रहा है। डायल-100 पुलिस को रात में बुलाया गया और युवक को पुलिस के हवाले कर दिया। इस युवक की वीडियो भी वायरल हो रही है, जिसमें वह काफी ढिठाई से खुद को एसीपी बता रहा है। अर्पित कुमार ने बताया कि आरोपी के खिलाफ तहरीर सौंप दी गई है। आरोप लगाया कि युवक कोई महाठग प्रतीत हो रहा है।-- मेरी जानकारी में ये मामला आ चुका है। मामले की जांच की जा रही है। फिलहाल तो युवक का कोई क्रिमिनल रिकॉर्ड दिखाई नहीं दे रहा है, लेकिन जो भी उचित होगा किया जाएगा।- संजय सिंह पांचाल, कोतवाल, धामपुर

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:FBI trying to defraud as ACP