DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दूध की चोरी पर गुस्साएं किसानों ने पराग डेरी पर की तालाबंदी

दूध की चोरी पर गुस्साएं किसानों ने पराग डेरी पर की तालाबंदी

भाकियू के बैनर तले किसानों ने पराग डेरी में बड़े पैमाने पर दूध की चोरी होने का आरोप लगाते हुए तालाबंदी कर धरना दिया। किसानों ने धरने पर भ्रष्टाचार को समाप्त करने की मांग की ताकि किसानों को राहत मिल सके। धरने पर किसानों ने संघ प्रभारी और कर्मचारियों को बंधक बनाया ।

मंगलवार को भारतीय किसान यूनियन के पदाधिकारियों ने पराग डेरी पर धरना दिया। धरने पर किसानों ने दुग्ध संघ में घोटाले का आरोप लगाते हुए धरना प्रदर्शन किया। किसान नेता अतुल कुमार, दिनेश कुमार, नरदेव सिंह, धीर सिंह बालियान आदि ने कहा कि यहां दूध की चोरी बडे़ पैमाने पर रही है। चोरी के कारण किसानों को दूध का रेट नहीं मिल पा रहा है और प्राइवेट लोग मनचाहे दामों पर दूध खरीद रहे हैं। जिससे किसान का नुकसान हो रहा है। धरने पर किसानों ने धरने पर आरोप लगाते हुए कहा कि जो दुग्ध उत्पादक सहकारी समिति बंद पड़ी है उनके नाम पर दूध तुलवाया जाता है और बाद में पैसा बांट लिया जाता है। धरने पर नरदेव सिंह, दिनेश और राजीव ने कहा कि गाड़ी वाले दुग्ध वाहन से दूध चोरी कर बेचते है। जिस में दुग्ध संघ के कर्मचारियों की मिलीभगत है। किसानों ने आरोप लगाया कि संघ के कर्मचारी मिलीभगत से गलत तरीके से दुग्ध समिति भी संचालित करते हैं। साथ ही गाड़ी वाहनों के रजिस्टर में भी गड़बड़ी पाई गई। किसानों ने कहा कि दुग्ध संघ में बड़ा घोटाला चल रहा है।

धरने पर मंडल महासचिव अतुल कुमार, धीर सिंह बालियान, नरदेव सिंह, संदीप त्यागी, धर्मेन्द्र, सोनू, दीपक तोमर, दिनेश कुमार, अवनीश, कामेन्द,धर्मेन्द्र राठी, सीताराम, विजय सिंह, रमेश, ललित सहरावत, मोहित कुमार, सचिन कुमार, रमेश सिंह, विजय सिंह, गजेन्द्र सिंह आदि सैकड़ों किसान मोजूद रहे।

:::::::::::::::::

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Farmers keep on locking the pollen on Dairy