DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

धामपुर तहसील क्षेत्र में कईं गांवों पर मंडराया बाढ़ का खतरा

धामपुर तहसील क्षेत्र में कईं गांवों पर मंडराया बाढ़ का खतरा

तीन दिन तक लगातार हुई बारिश के बाद नदियों में उफान आ गया। शेरकोट में जहां खो नदी का जलस्तर बढ़कर 44 हजार क्यूसेक पहुंच गया। वहीं भूतपुरी में बनैली नदी का पानी भूतपरी-जसपुर मार्ग पर बहने लगा। इस नदी के पानी से भूतपुरी के करीब एक दर्जन गांव प्रभावित हुए।

दल्लीवाला नई बस्ती में कई ग्रामीणों के घरों में तीन से चार फिट तक पानी भर गया। दूसरी ओर गंगा बैराज बिजनौर में हरिद्वार से 80 हजार क्यूसेक पानी छोड़ा गया। जबकि पीली डैम जलाशय से भी 7 हजार क्यूसिक पानी छोड़ा गया। एसडीएम ने प्रभावित गांवों को दौरा किया। हालांकि, उन्होंने पानी से किसी के जान-माल के नुकसान न होने का दावा किया।पिछले तीन दिन से लगातार बारिश का क्रम जारी था। कभी धीमी बारिश हो रही थी तो कभी तेज बारिश बरस रही थी। इस बारिश से नदियां उफान पर आ गईं। एक्सइएन सिंचाई खंड अफजलगढ़ राम बाबू ने बताया कि बिजनौर बैराज में रविवार को एक लाख 22 हजार क्यूसिक पानी चला। बताया कि बैराज में 80 हजार क्यूसिक पानी हरिद्वार से छोड़ा गया था। पीली डैम जलाशय का जलस्तर 834.5 फिट दर्ज किया गया है। सात हजार क्यूसिक पानी छोड़ा गया है। दूसरी ओर भूतपुरी में बनैली नदी का पानी कई गांवों में घुस गया। भूतपुरी के गांव आलमपुर गांवड़ी, चतरपुर, मनोहरवाली, दल्लीवाला में बाढ़ के हालात हैं। ग्रामीणों में खौफ पसरा है। दल्लीवाला के नई बस्ती में तो पानी ने ग्रामीण ओमप्रकाश, सुनील कुमार की दीवारें गिरा दीं। इतना ही नहीं ग्रामीण परसादी सिंह, मूलचंद, हरिओम सिंह, हरिराज सिंह, यशोदा देवी, सहित कईं अन्य ग्रामीणों के घरों में लगभग तीन से चार फिट तक पानी घुस गया। ग्रामीणों ने बताया कि पानी घुसने के कारण उनके घरों में कपड़े, खाने-पीने का सामान खराब हो गया। ग्रामीणों को छतों पर आश्रय लेना पड़ा। एसडीएम आलोक यादव ने बताया कि नदियों के जलस्तर में वृद्धि हुई है लेकिन कहीं से जान-माल के नुकसान की सूचना नहीं है। कहा कि वह खुद नदियों के जलस्तर पर निगाह रखे हुए हैं।जसपुर मार्ग पर पहुंचा पानी तो मचा हड़कंप, महिला बेहोशबनैली नदी का पानी भूतपुरी जसपुर मार्ग पर पहुंचा तो ग्रामीणों और वाहन चालकों में हड़कंप मच गया। मार्ग पर करीब एक से डेढ़ फिट तक पानी बहने लगा। हाईवे पर दोनों ओर वाहनों की कतारें लग गईं। कुछेक वाहन चालकों ने खतरे को नजरअंदाज कर पानी के बीच से वाहनों को निकाला। मुरादाबाद के लालापुर निवासी महिला लज्जावती पानी देख बेहोश हो गई और बाइक से गिर पड़ी। उसे एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है।हरेचली में रपटा क्षतिग्रस्तहरेवली। हरेवली में बेका नदी में अचानक आए उफान के कारण यहां रपटा क्षतिग्रस्त हो गया। इस स्थान पर करीब पांच से छ: फिट गहरा गड्ढा बन गया। इस कारण हरेवली से गांव शाहनगर कुराली, टांडा, चाहड़वाला, सहारावाला, मधपुरी, भोगपुर, वीरभान सहित कईं अन्य गांवों का संपर्क कट गया है। आसपास के खेतों में भी पानी भर गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Dangarai floods threat to several villages in Dhampur area