DA Image
26 सितम्बर, 2020|7:35|IST

अगली स्टोरी

बिजनौर के छात्र ने ऑटोमैटिक हैंड सेनेटाइज़र मशीन बनाई

बिजनौर के छात्र ने ऑटोमैटिक हैंड सेनेटाइज़र मशीन बनाई

कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए सेनेटाइज़र के योगदान को देखते हुए वीकेआईटी कॉलेज में बी.टैक इलेक्ट्रिकल के छात्र दीपक कुमार ने ऑटोमैटिक हेंड सेनेटाइज मशीन बनाई है।

आज के समय में ऑटोमैटिक हैंड सेनेटाइज़र मशीन बाज़ार में काफी महंगी मिल रही है, लेकिन दीपक कुमार ने मात्र 1500 रुपये की लागत से मशीन तैयार की है। यह मशीन 10 सेकण्ड तक हाथों को सेनेटाइज़ करेगी इस मशीन की खासियत यह है कि यह बिना छुए ही कार्य करती है। जैसे ही व्यक्ति के हाथ मशीन में लगे सेंसर के सम्पर्क में आते हैं।

तुंरत मशीन में ग्रीन लाइट जलती है और 10 सेंकेंड में हाथों को सेनेटाइज़ कर देती है। यह मशीन लिक्विड बेस्ड सेनेटाइज़र है। ग्रुप के प्रबंध निदेशक अभिषेक सिंह ने अपने हाथों को सेनेटाइज करके इस मशीन की शुरूआत की और छात्र दीपक कुमार द्वारा बनाई गयी ऑटोमैटिक हेंड सेनेटाइज मशीन की प्रशंसा करते हुए छात्र के उज्ज्वल भविष्य की कामना की।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Bijnor student built automatic hand sanitizer machine