DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

टैंक ब्लास्ट: मीथेन गैस से भरे टैंक पर होनी ही नहीं थी वेल्डिंग, घोर लापरवाही

टैंक ब्लास्ट: मीथेन गैस से भरे टैंक पर होनी ही नहीं थी वेल्डिंग, घोर लापरवाही

मोहित पेट्रोकैमिकल्स फैक्ट्री के मीथेन बायोगैस प्लांट के टैंक फटने के मामले में उप निदेशक कारखाना मेरठ आरएस माथुर घटना स्थल पर पहुंचे। घटना स्थल पर पहुंचकर मौका मुआयना किया। उन्हें वहां न तो फैक्ट्री मालिक मिले और न ही कर्मचारी। मीथेन बायोगैस प्लांट के टैंक ब्लास्ट को वह प्रबंधकों की लापरवाही मान रहे हैं।बुधवार को मोहित पेट्रोकैमिकल्स फैक्ट्री के मीथेन बायोगैस प्लांट के टैंक में ब्लास्ट होने की सूचना पर उप निदेशक कारखाना आरएस माथुर फैक्ट्री पहुंचे। उन्होंने वहां बारीकि से एक एक विन्दु की जांच की। उप निदेशक कारखाना आरएस माथुर ने बताया कि टैंक के पास में ही वेल्डिंग मशीन पड़ी थी और उसकी लीड लटक रही थी। मीथेन गैस भरी होने पर वेल्डिंग नहीं होनी चाहिए थी। मीथेन गैस का प्रेशर डेवलेप होने के कारण टैंक ब्लास्ट हुआ। उन्होंने कहा कि जब मीथेन गैस भरी हुई थी तो वेल्डर से वेल्डिंग नहीं करानी चाहिए थी। कुशल नेतृत्व में ही काम होना चाहिए था। इसमें प्रबंधकों की लापरवाही है। मौके पर न तो मालिक और न ही कर्मचारी मिले। मामले में पूरी जांच कराई जा रही है। मामले में गवाहों के बयान लिए जाएंगे। लापरवाही उजागर हुई है। जांच के बाद कार्रवाई कराई जाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: Bijnor Incident Welding was not to be on a tank filled with methane gas gross negligence