DA Image
3 अप्रैल, 2020|10:52|IST

अगली स्टोरी

गोल्डन कार्ड बनाने में दूसरे और ट्रीटमेंट में पांचवे नंबर पर बिजनौर

default image

आयुष्मान भारत योजना के तहत गोल्डन कार्ड बनाने में बिजनौर सूबे में दूसरे और ट्रीटमेंट में पांचवे स्थान पर पहुंच गया है। योजना के तहत 2,89, 358 परिवारों के गोल्डन कार्ड आयुष्मान योजना के तहत बनाए जाने थे। इसके सापेक्ष अब तक दो लाख 43 हजार 541 कार्ड बिजनौर में बन चुके हैं।

नोडल अफसर ने इसकी पुष्टि की है। जनपद में आयुष्मान योजना के तहत कॉर्ड बनाने का तेजी से काम जारी है। कार्ड बनाने में बिजनौर यूपी में दूसरे नंबर पर आया है। बिजनौर में 2,89, 358 परिवारों के गोल्डन कार्ड आयुष्मान योजना के तहत बनाए जाने हैं। नोडल अफसर एसीएमओ डा. पीआर नायर के अनुसार 2,43,541 के कार्ड बनाए जा चुके हैं। कुल 39 अस्पताल पंजीकृत हैं। इनमें 26 निजी नर्सिंग होम तथा 13 सरकारी अस्पताल पैनल में शामिल हुए हैं। विभागीय आंकड़ों के मुताबिक जनपद में योजना से अब तक 8997 लोग लाभांवित हुए हैं। इनमें 4160 मरीजों का उपचार जनपद के अंदर तथा 4837 मरीजों का इलाज जनपद से बाहर के चिकित्सालयों में हुआ है। - आयुष्मान योजना में कार्ड बनाने में इस समय बिजनौर प्रदेश में दूसरे नंबर पर तथा ट्रीटमेंट में पांचवे नंबर पर है। गोल्डन कार्ड बनाने के साथ ही अधिक से अधिक मरीजों को लाभ दिलाने का प्रयास है। डॉ. पीआर नायर, एसीएमओ/नोडल अफसर, आयुष्मान योजना

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title: Bijnor at number five in making golden card and fifth in treatment