DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिजनौर में सत्संग की आड़ में धर्मांतरण का आरोप, हंगामा

बिजनौर में सत्संग की आड़ में धर्मांतरण का आरोप, हंगामा

क्षेत्र में ईसाई मिशनरी के कुछ लोगों द्वारा सत्संग के नाम पर धर्मान्तरण के प्रयास का आरोप लगा भाजपा नेताओं ने रविवार को हंगामा किया। संत्संग में बाहर से आए महिला-पुरुषों को बंधक बना लिया। सूचना पर पहुंची पुलिस दो-तीन लोगों को अपने साथ ले गई, हालांकि बाद में मामला शांत होने पर उन्हें छोड़ दिया।

प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार रविवार सुबह लगभग 10 बजे मोहल्ला संतोषी माता मन्दिर के पास एक घर में इसाई मिशनरी के लिये सत्संग होने की सूचना पर हिंदू संगठन के पदाधिकारियों ने सत्संग कर रहे दर्जनों महिला-पुरुषों को बंधक बना कर जमकर हंगामा किया और एक व्यक्ति की पिटाई भी कर डाली। घटना की सूचना पर पहुंची पुलिस ने तीन-चार व्यक्तियों को हिरासत में लिया। एक घंटे चले हंगामे के बाद दूर-दूर से आई महिलाओं को जाने दिया गया।

हिन्दू संगठनों के पदाधिकारियों का आरोप था कि ये लोग इसाई मिशनरी के लिये काम कर रहे हैं और हिन्दुओं को इसाई धर्म में अपनाने के लिए प्रेरित करते हैं। भाजपा के नगर अध्यक्ष शशांक बिश्नोई, मनोज भटनागर, अनिल कुशवाहा, नीतू जोशी आदि का कहना है कि क्षेत्र में इस तरह का प्रयास कर रहे लोगों को बख्शा नहीं जाएगा। उधर जिस घर में सत्संग हो रहा था, उसके मुखिया कलवा का कहना है कि उसकी मां सत्संग करा रही थी, लेकिन धर्म परिवर्तन कराने की जानकारी उसकी मां को भी नहीं थी। थाना प्रभारी उदयप्रताप का कहना है कि जिन लोगों को हिरासत में लिया गया था उन्हें पूछताछ के बाद छोड़ दिया गया है। धर्म परिवर्तन संबंधित कोई मामला प्रकाश में नहीं आया है। पिटाई होने की शिकायत किसी ने नहीं की है। अगर कोई तहरीर आती है तो कार्यवाही होगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: Bijnor accused of conversion under the guise of satsang