DA Image
2 अगस्त, 2020|10:25|IST

अगली स्टोरी

भदोही में चाचा ने सगी भतीजी का गला रेतकर की हत्या

भदोही में चाचा ने सगी भतीजी का गला रेतकर की हत्या

सुरियावां थाना क्षेत्र के कोछियां निवासी 16 वर्षीय निशा दुबे हत्याकांड का 24 घंटे के अंदर पुलिस ने खुलासा किया। रविवार की शाम कोतवाली में एसपी राम बदन सिंह ने मामले की जानकारी मीडिया को दी। दावा किया कि पड़ोसियों को फंसाने के लिए उसके सगे चाचाओं व चाची ने हत्या की साजिश कर उसे शनिवार की रात मौत के घाट उतारा। तीनों आरोपितों को जेल रवाना करते हुए हत्या में प्रयुक्त चापड़ व बाइक भी बरामद की गई। एसपी ने बताया कि शनिवार की रात भदोही कोतवाली क्षेत्र के जमुनीपुर अगठवां गांव स्थित धनुषयज्ञ मेला की बारी में किशोरी का शव बरामद हुआ था। मामले के खुलासे को सीओ भूषण वर्मा, क्राइम ब्रांच, भदोही व सुरियावां थाने की टीम लगाई गई थी। सुबह मृतका की शिनाख्त कोछिया निवासी अमरेश दुबे की बेटी निशा के रुप में हुई। मिले इलेक्ट्रानिक साक्ष्यों व पूछताछ के बाद सगे चाचाओं इंद्रेश कुमार दुबे, रंजीत उर्फ रणजीत दुबे तथा चाची वंदना दुबे को हत्या की साजिश व उसे अमलीजामा पहनाने का आरोपित पाया गया। तीनों के खिलाफ हत्या का केस दर्ज करते हुए जेल रवाना किया गया है। उन्होंने टीम को पुरस्कृत करने का भी ऐलान किया। बता दें कि उक्त मेला की बारी में शनिवार की रात किशोरी का शव मिलने के बाद सनसनी फैल गई थी। घटना को लेकर तरह-तरह के कयास लगाए जा रहे थे। लेकिन पुलिस ने 24 घंटे के अंदर प्रकरण का खुलासा कर दिया। हाथ-पैर दबाकर उतारा मौत के घाट शनिवार की शाम निशा ने घर पर भोजन पकाकर अपने चाचाओं, चाची व दादी को दिया। पूरे परिवार ने भोजन किया और उसके बाद निशा को चाचा ने मिर्जापुर रिश्तेदारी ले जाने की बात कही। जिस पर वह साथ चल दी। उक्त मेला की बारी में पहुंचने के बाद आरोपितों ने चापड़ से गला ही काट दिया। हत्या करने के पूर्व उसके हाथ व पैर को दबाया गया था। पुलिस को मृतका के हाथ पर जूतों के निशान मिले। पास में ही रुमाल, पान व चप्पल भी पड़ा था। सगे चाचाओं ने बेटी को बेरहमी से मारा। साल भर पहले युवक से की थी शादीसुरियावां। मृत किशोरी के पिता मुंबई में रहकर आटो चलाते हैं। बेटी भी मां के साथ वहीं रहती थी। वहीं पर उसकी आंखें एक युवक से लड़ गई। जिसके बाद दोनों ने भागकर गत वर्ष गोपीगंज स्थित एक मंदिर में शादी कर ली थी। उसके बाद से पिता ने संबंध तोड़ लिए। इस बीच, ससुराल वालों से भी संबंध खराब होने पर मृतका अपने चाचाओं के पास आकर रहने लगी। गत वर्ष 30 अगस्त 2019 को चाचा की तहरीर पर पुलिस ने शादी करने वाले युवक व महिला के खिलाफ केस दर्ज करते हुए दोनों को जेल भेजा गया था। इन दिनों जमानत पर दोनों रिहा चल रहे थे। आठ लाख रुपए न मिलने पर रचा हत्या का षड़यंत्र भदोही। पिता की मर्जी के खिलाफ जाकर शादी करने के बाद उन्होंने बेटी से संबंध तोड़ लिया। इस बीच, ससुराल वालों से भी बात बिगड़ गई। जिसके बाद निशा को हत्यारोपित चाचाओं ने शरण दी। इस बीच, साल भर के अंदर ब्लैकमेलिंग का पूरा खाका तैयार किया गया। उसे अमली रुप देने के लिए भतीजी को मौत के घाट उतारा गया। सुरियावां थाना क्षेत्र के कोछियां निवासी अमरेश ने अकेली बेटी की परवरिश अच्छे से की थी। लेकिन इस बीच, उसने एक युवक के साथ भागकर शादी कर ली, जिसके बाद उन्होंने संबंध तोड़ दिया। इसी बात का शातिर चाचाओं ने फायदा उठाया और भतीजी को अपने साथ रखा। पुलिस के अनुसार शादी करने वाले युवक के परिजनों से आठ लाख रुपयों की डिमांड आरोपितों द्वारा की जा रही थी। उसे पूरा न करने पर फंसाने की धमकी। षडयंत्र के तहत इधर कुछ माह में चाचा ने कई शिकायतें देकर भतीजी की हत्या व परेशान करने का भी आरोप लगाया था। एसपी ने बताया कि शिकायतों की जांच के बाद मामले फर्जी निकले। पुलिस के हाथ लगे एक आडियो में आठ लाख रुपयों की डिमांड हत्यारोपित करते सुने जा रहे हैं। एसपी ने बताया कि शादी करने वाले युवक व पड़ोस के एक व्यक्ति से जमीनी विवाद चल रहा है, दोनों को फंसाने की नियत से ही तीनों ने मिलकर हत्या की। संदेह होने पर दो थानों की पुलिस व क्राइम ब्रांच को लगाया गया था, जिसके बाद मामले का अनावरण किया गया। उधर, पुलिस ने तीनों आरोपितों को जेल भेजते हुए शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा। डेढ़ किमी जाने के बाद लौट आया कुत्ताभदोही। जमुनीपुर अगठवां मेला की बारी में एसपी शनिवार की रात डाग स्क्वायड, फोरेसिंग विभाग की टीम संग पहुंचे थे। उस दौरान खोजी कुत्ता घटना स्थल से मोढ़ की ओर डेढ़ किलोमीटर तक गया। वहीं पर एक पेड़ के पास जाकर रुक गया था। उधर, प्रकरण के खुलासे के बाद कोछियां के लोग चाचाओं को कोसते नजर आए।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Uncle killed his niece in Bhadohi