DA Image
4 जून, 2020|7:17|IST

अगली स्टोरी

यज्ञ मंडप की परिक्रमा से मिलता है तीर्थों का फल

यज्ञ मंडप की परिक्रमा से मिलता है तीर्थों का फल

भिदिउरा स्थित अखंडाश्रम में चल रहे रामकथा में रविवार को यज्ञ मंडप की परिक्रमा करने के लिए श्रद्धालुओं की भारी भीड़ उमड़ी। बताया गया कि रुद्रचंडी महायज्ञ करने से जन्म जन्मांतर के पास नष्ट हो जाते हैं। साथ ही महायज्ञ की परिक्रमा करने से स भी तीर्थों का फल मिलने के साथ सभी विकार, बाधाएं समूल नष्ट हो जाती हैं।यज्ञकर्ता आचार्यो ने बताया कि जो लोग किसी कारणवश तीर्थ यात्रा पर नहीं जा पाते, वे यदि महायज्ञ की परिक्रमा करे, उन तीर्थों को याद करें। तो तीर्थयात्रा के बराबर फल मिलता है, महायज्ञ की परि क्रमा करने समय गिनती न भूल जाएं। इसके संकेतक भी हाथ में रखते हैं। यज्ञाचार्य पं.राजेश महराज ने बताया कि रुद्रचंडी महायज्ञ अनुष्ठान जनमानस के लिए विशेष कल्याणकारी माना गया है । सर्व मनोकामना के लिए महायज्ञ अनुष्ठान हो रहा है। केवल य ज्ञ अनुष्ठान ही नहीं है बल्कि शक्ति साधना है। यह शक्ति मनुष्य के व्यवहारिक जीवन की आपदाओं का निवारण कर ज्ञान, बल प्रदान करती है। कथावाचक अनिल पारासर ने कहा कि रामकथा को हर व्यक्ति को सुनना चाहिए। रामचरित मानस मानव सभ्यता के लिए आचार संहिता का काम करता है। इस मौके पर विधायक दीनानाथ भाष्कर, पूर्व विधायक पूर्णमासी पंकज, संतोष महराज, वि द्यापति कोकिल, सुरेश पांडेय, राजकुमार पाठक, बटुक, राजबली, विजयनाथ आदि रहे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:The pilgrimage results from the circumambulation of the Yagya Mandap