DA Image
27 फरवरी, 2021|8:34|IST

अगली स्टोरी

देश को आजादी दिलाने में सुभाषचंद्र बोस की अहम भूमिका

देश को आजादी दिलाने में सुभाषचंद्र बोस की अहम भूमिका

ज्ञानपुर। निज संवाददाता उच्च प्राथमिक विद्यालय ज्ञानपुर में शनिवार को नेताजी सुभाषचंद्र बोस की जयंती पराक्रम दिवस के रुप में मनाया गया। नेताजी को नमन कर उनके व्यक्तित्व पर चर्चा की गई। आजादी के महानायक के बताए पथ पर चलने का लोगों ने शपथ ग्रहण किया।

इस दौरान प्रधानाध्यापिका सतगुरु प्यारी श्रीवास्तव ने कहा कि नेताजी सुभाषचंद्र बोस का त्याग व बलिदान कभी भुलाया नहीं जा सकता। देश की जनता उन्हें सदैव याद करती रहेगी। राज्य शिक्षक पुरस्कार से सम्मानित शिक्षक अखिलेश कुमार ने कहा कि भारत सरकार ने नेताजी के जन्म दिवस को प्रराक्रम दिवस के रुप में मनाने का निर्देश दिया है। आज हम आजाद देश के निवासी हैं तो इसमें सुभाषचंद्र बोस की अहम भूमिका है। नेताजी ने ही आजाद हिंद फौज का नेतृत्व कर तत्कालीन ब्रिटिश सरकार में हड़कंप मचा दिया था। नेताजी का एक ही नारा था तुम मुझे खून दो मैं तुम्हें आजादी दूंगा। इसी नारे से आजादी का जुनून जागृत हो गया था। नेताजी के पराक्रम से युवा वर्ग को प्रेरणा लेने की जरुरत है। इस मौके पर विमल कुमार मिश्र, शिवम श्रीवास्तव, तृप्ति, रंजना, अंजू देवी, रतनलाल, मानिकचंद्र यादव आदि उपस्थित थे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Subhash Chandra Bose 39 s important role in providing independence to the country