DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

स्कूली वैन का निकला अगला चक्का, टला हादसा

लखनो गांव में 12 जनवरी को हुए स्कूली वैन हादसा के बावजूद शिक्षा व आरटीओ विभाग नहीं चेत रहा है। शिक्षा व आरटीओ विभाग की लापरवाही से औराई थाना क्षेत्र के सहसेपुर गांव में बुधवार की सुबह स्कूली बच्चों के साथ बड़ा हादसा होते-होते टल गया। हुआ यूं कि डीसीएल पब्लिक स्कूल की वैन दर्जन भर बच्चों को बैठाकर विद्यालय ले जा रही थी। इस बीच सहसेपुर के पास पहुंचते ही वैन का अगला चक्का निकल गया। वैन से चक्का निकलते ही वाहन बेकाबू हो गया और बच्चे शोर मचाने लगे। संयोग अच्छा रहा कि अनियंत्रित हुआ स्कूली वैन किसी बड़े वाहन की चपेट में नहीं आया अन्यथा बड़ा हादसा हो सकता था। बच्चों की आवाज सुनकर आसपास के लोग वाहन के पास पहुंच गए और मासूमों को बाहर निकाला। वाहन चालक को ग्रामीणों ने पकड़ लिया और इसकी सूचना औराई थाने में दी। जानकारी मिलते ही तत्काल पहुंचे थाना प्रभारी निरीक्षक सुनील दत्त दूबे ने वाहन चालक को हिरासत में लेते हुए वैन को सीज कर दिया। इसके साथ ही वाहन चालक, स्कूल के प्रबंधक व प्रधानाचार्य के खिलाफ संबंधित धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया। सूत्रों की माने तो शिक्षा विभाग की मिली भगत से बीआरसी औराई क्षेत्र के दर्जनों स्थान पर बिन मान्यता के विद्यालय धड़ल्ले से चल रहे हैं। इन स्कूलों में डग्गामार आटो, वैन व मैजिक जैसे वाहनों पर बैठाकर बच्चों को ढोया जा रहा है। स्कूल में चल रहे पुराने वाहन किसी समय हादसे का कारण बन सकते हैं। आरटीओ विभाग भी इस दिशा में ध्यान नहीं दे रहा है। लखनो हादसा के बाद औराई क्षेत्र में जांच के नाम पर सिर्फ औपचारिकता ही पूरी की गई।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:School van turned out to be the next flywheel