DA Image
19 जनवरी, 2021|5:08|IST

अगली स्टोरी

साइकिल मिलते ही श्रमिक बेटियों का खिला चेहरा

साइकिल मिलते ही श्रमिक बेटियों का खिला चेहरा

ज्ञानपुर। निज संवाददाता

मिशन शक्ति योजना के तहत गुरुवार को श्रम विभाग कार्यालय पर साइकिल वितरण का आयोजन किया गया। इसमें श्रमिक के 23 बेटियों में साइकिल वितरण किया गया। श्रम प्रवर्तन अधिकारी प्रतीमा मौर्या के हाथों साइकिल मिलते ही बेटियों का चेहरा खुशी से खिल उठा। मजदूर की बेटियों ने कठिन परिश्रम कर पढ़ाई करने का भरोसा दिया।

इस दौरान श्रम प्रवर्तन अधिकारी ने बताया कि शासन बेटियों की शिक्षा व सुरक्षा को लेकर बेहद गंभीर है। दूर-दराज के स्कूलों में बेटियों को पैदल न जाना पड़े इसलिए शासन स्तर से साइकिल बांटा जा रहा है। अब बेटियों की पढ़ाई की चिंता गरीब माता-पिता को नहीं करना होगा। सरकारी विद्यालयों में पढ़ने वाली छात्राओं को हर सुवधिा मुहैया कराया जा रहा है। उत्तर प्रदेश भवन एवं सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड द्वारा शिक्षा सहायता योजना संचालित किया गया है। इसमें छात्रवृत्ति के साथ ही योजना के तहत पंजीकृत निर्माण श्रमिकों के पुत्रियों को कक्षा दस या बारहवीं उत्तीर्ण कर पर स्कूल जाने के लिए साइकिल मिलेगा। योजना में कुल 46 श्रमिक की कन्याओं ने पंजीयन कराया था। इसमें 23 को प्रथम दिन साइकिल बांटा गया है। श्रमिक अपने बेटियों का पंजीयन जरुर कराएं ताकि उन्हें भी योजना का लाभ मिल सके। इस मौक्े पर इंद्रजीत तिवारी, सीमा पांडेय, वीरेंद्र प्रसाद, रामविलास, दीपक मौर्य, शिवान अख्तर, गुलाबचंद्र, सुशील कुमार आदि उपस्थित थे। बीडीएच 21 श्रम विभाग कार्यालय पर गुरुवार को साइकिल संग खड़ी श्रमिक की बेटियां

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Laborers face feeding on receiving daughters 39 cycles