DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

तकनीकी खराबी से दर्जनों गांव की बत्ती गुल

जिला मुख्यालय स्थित उपकेंद्र से जुड़े दर्जनों गांवों में दो दिन से शाम होते ही अंधेरा छा जा रहा है। कारण कि बहेराताल में 11 हजार वोल्ट का जर्जर तार आपस में टकराने से डिस्क पंचर हो गया है। ग्रामीणों की शिकायत के बाद भी विभाग की ओर से खराबी दूर करने की जरूरत नहीं समझी जा रही है। इससे समस्या झेल रहे ग्रामीणों में आक्रोश व्याप्त है। 

जिला मुख्यालय पर स्थापित 132 केवीए उपकेंद्र से पुरवां, सलेमपुर, श्रीकंठपुर, अकोढ़ा कला, अकोढ़ा खुर्द, शिवपुर, शाहपुर बहेरा समेत दर्जनों गांवों में बिजली आपूर्ति की जाती है। लेकिन रविवार को बहेराताल में दौड़ाए गए 11 हजार वोल्ट का तार जर्जरावस्था में होने से उसमें लगा डिस्क पंचर हो गया। इससे उपकेंद्र से जुटे गांवों की आपूर्ति पूरी तरह से ठप हो गई। आलम यह है कि दो दिनों से ग्रामीण अंधेरे में रहने को विवश हैं। वहीं पेयजल की भी किल्लत उठानी पड़ रही है। ग्रामीणों ने इसकी शिकायत विभागीय अधिकारियों और कर्मचारियों से की। लेकिन समस्या को दूर करने को लेकर विभागीयजन लापरवाह बने हुए है। इससे ग्रामीणों को तमाम तरह की परेशानी झेलनी पड़ रही है। ग्रामीण सुरेंद्र सिंह, रामदुलारे यादव, रमेश सिंह, कुंवर सिंह, कमलेश आदि ने कहा कि बिजली आपूर्ति ठप होने से क्षेत्र दो दिन से अंधेरे में है। इससे बारिश के समय जहरीले जंतुओं का भय बना रहता है। बावजूद इसके बिजली विभाग के अधिकारियों और कर्मचारियों के उदासीन रवैया अपनाए हुए हैं। ग्रामीणों ने उच्चाधिकारियों का ध्यान आकृष्ट कराते हुए खराबी दूर करने की मांग की है।   

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Dozens of villages gul off technical breakdown