DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › बस्ती › हादसे में जबड़ा टूटने पर बस्ती मेडिकल कॉलज में होगी सर्जरी
बस्ती

हादसे में जबड़ा टूटने पर बस्ती मेडिकल कॉलज में होगी सर्जरी

हिन्दुस्तान टीम,बस्तीPublished By: Newswrap
Tue, 03 Aug 2021 11:51 PM
हादसे में जबड़ा टूटने पर बस्ती मेडिकल कॉलज में होगी सर्जरी

सोनूपार (बस्ती)। हिन्दुस्तान संवाद

हादसे में जबड़ा टूटने पर मेडिकल कॉलेज बस्ती में ही सर्जरी होगी। मेडिकल कॉलेज को जल्द ही ओपीजी (आर्थोपेंटोमोग्राफी) एक्स-रे मशीन व इसके साथ प्रयुक्त होने वाला कैमरा मिलने वाला है। लगभग 16 लाख की इस मशीन के लिए शासन स्तर पर टेंडर हो चुका है। चिकित्सकों का कहना है कि मेडिकल कॉलेज के लिए यह बड़ी उपलब्धि होगी। इस मशीन का प्रयोग दंत विभाग, ईएनटी के डॉक्टर भी सर्जरी के लिए कर सकेंगे। जटिल ऑपरेशन के मामलों में इस मशीन का बड़ा रोल होता है।

कॉलेज के असिस्टेंट प्राफेसर व एमडी सर्जन ओरल (मैक्सीलोफेसियल) डॉ. अनिल यादव ने बताया कि कोविड से पूर्व एक जबड़ा टूटने का एक्सीडेंट का केस मेडिकल कॉलेज में आया था, उस समय मशीन की सुविधा न होने के कारण मरीज का ऑपरेशन नहीं किया जा सका और उसे रेफर करना पड़ा था। हाईवे से सटा होने के कारण आए दिन हादसे होते हैं, और उसमें जबड़ा टूटने व दांत के टूटने का इलाज स्थानीय स्तर पर नहीं हो पाता है। मरीज को गोरखपुर या लखनऊ भेजना पड़ता है। मशीन मिलने के बाद यह समस्या नहीं रहेगी। मरीज का समय से इलाज हो सकेगा।

दंत व ईएनटी सर्जन कर सकेंगे बड़ा ऑपरेशन

ओपीजी मशीन का प्रयोग दंत व ईएनटी विभाग के चिकित्सक भी करेंगे। दांत व जबड़े का एक्स-रे इस मशीन द्वारा किया जाता है। दांत की जांच व इलाज हो सकेगा। यह मशीन मैक्सीलोरी साइनस, टीएम जॉइंट, फुली हैंडेबल, इम्प्लांट फ्रेक्चर के लिए अधिक उपयोगी है। मुंह का कैंसर, दांत घिसना, दांत सड़ कर टूटने आदि के मामले में ऑपरेशन किया जा सकेगा। नॉक, कान व गले की समस्या में भी इस मशीन का उपयोग कर इलाज किया जाएगा। चिकित्सक बड़ा ऑपरेशन कर सकेंगे, जो अब तक बस्ती मंडल के किसी अस्पताल में संभव नहीं था।

संबंधित खबरें