DA Image
18 अक्तूबर, 2020|3:11|IST

अगली स्टोरी

अब विभागाध्यक्ष कर सकेंगे सरकारी वाहनों की नीलामी

अब विभागाध्यक्ष कर सकेंगे सरकारी वाहनों की नीलामी

सरकारी कंडम वाहनों की नीलामी अब विभागाध्यक्ष के जिम्मे हो गया है। परिवहन विभाग के प्राविधिक निरीक्षक वाहनों का मूल्यांकन कर विभागाध्यक्ष को भेजेंगे और जिला प्रशासन के नामित अधिकारी की मौजूदगी में वाहनों के नीलामी की प्रक्रिया पूरी की जाएगी।

पहले सरकारी वाहनों के नीलामी की प्रक्रिया परिहवन विभाग के अधिकारी पूरी करवाते थे। इसमें जिला प्रशासन के नामित अधिकारी, एआरटीओ और आरआई की भूमिका महत्वपूर्ण होती थी। विभागाध्यक्ष को इससे कोई मतलब नहीं रहता था। इधर लंबे समय से इनकी तकनीकी जांच प्रक्रिया न पूरी होने के कारण निष्प्रयोज्य वाहनों की संख्या में भारी बढ़ोत्तरी दर्ज की गई तो शासन ने इसके लिए विभागाध्यक्षों की जिम्मेदारी निर्धारित कर दिया।

इसके तहत दस साल की आयुसीमा पूरी कर चुके अथवा एक लाख 71 हजार किमी दूरी तय कर चुके वाहनों के मूल्यांकन के लिए विभागाध्यक्ष परिवहन विभाग को पत्र भेजकर अवगत कराएंगे और निष्प्रयोज्य घोषित कर नीलामी के लिए जिला प्रशासन के संज्ञान में देंगे। उसके बाद जिला प्रशासन के नामित अधिकारी की मौजूदगी में कंडम वाहनों के नीलामी की प्रक्रिया पूरी की जाएगी। आरटीओ प्रवर्तन अनिल कुमार श्रीवास्तव और आरआई नरेंद्र यादव ने बताया कि इस व्यवस्था से सरकारी दफ्तरों में कंडम वाहनों के नीलामी की प्रक्रिया आसान हो गई है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Now the head of department will be able to auction government vehicles