DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  बस्ती  ›  लॉकडाउन : डेढ़ लाख ने छोड़ा कारोबार तो एक चौथाई ने त्यागा घरबार

बस्तीलॉकडाउन : डेढ़ लाख ने छोड़ा कारोबार तो एक चौथाई ने त्यागा घरबार

हिन्दुस्तान टीम,बस्तीPublished By: Newswrap
Tue, 01 Jun 2021 04:50 AM
लॉकडाउन : डेढ़ लाख ने छोड़ा कारोबार तो एक चौथाई ने त्यागा घरबार

बस्ती। निज संवाददाता

कोरोना के दूसरे लहर के कारण लॉकडाउन घोषित होने के बाद अब तक बस्ती रेलवे स्टेशन पर तकरीबन डेढ़ लाख प्रवासी कामगार बड़े शहरों से वापस लौट चुके हैं। वहीं इस समयावधि में तकरीबन 35 हजार लोगों ने रोजी-रोटी की तलाश में देश के विभिन्न महानगरों का रुख किया है। रेलवे के अनुसार अब धीरे-धीरे लोग फिर जिंदगी को पटरी पर लाने के लिए काम की तलाश में बाहर जाने का मन बना रहे हैं। स्थिति यह है कि 17 जून तक सभी प्रमुख महानगरों को जाने वाली ट्रेनों की सीटें फुल हो चुकी हैं।

बस्ती समेत पूरे प्रदेश में 3 मई से संपूर्ण लॉकडाउन घोषित किया गया है। इस बीच बस्ती स्टेशन पर रोजाना औसतन पांच हजार यात्री मुंबई, गुजरात व पूना जैसे महानगरों से वापस लौट रहे हैं। वहीं अकेले दिल्ली से प्रतिदिन औसतन सात सौ लोग अलविदा कह रहे हैं। आरपीएफ इंस्पेक्टर नरेंद्र यादव के अनुसार इन सबकी थर्मल स्कैनिंग करवाकर रोडवेज बसों से उनके गृह जनपद रवाना किया जा रहा है। इस प्रकार लगभग 28 दिनों में लौटने वालों की संख्या लगभग डेढ़ लाख से अधिक हो चुकी है।

दूसरी तरफ बस्ती रेलवे स्टेशन के आरक्षण प्रभारी एसके त्रिपाठी के अनुसार लॉकडाउन के इन 28 दिनों में रोजाना औसतन एक हजार यात्री मुंबई व गुजरात के लिए रवाना हो रहे हैं तो रोजी-रोटी के लिए दिल्ली जाने वालों की संख्या प्रतिदिन औसत पांच सौ तक पहुंच रही है। श्री त्रिपाठी ने बताया कि इन दिनों गुजरात व मुंबई के लिए जाने वाली कुशीनगर, अवध-बांद्रा व गोरखपुर एलटीटी सुपरफास्ट एक्सप्रेस 17 जून तक हाउसफुल है। इसके अलावा दिल्ली के लिए जाने वाली गोरखधाम, वैशाली व सत्याग्रह सुपरफास्ट एक्सप्रेस में भी सीटें अगले पखवारे तक रिजर्व हो चुकी हैं। अगर यही स्थिति रही तो अनलॉक होने पर परदेश जाने वालों की संख्या में और बढ़ोत्तरी होगी।

संबंधित खबरें