DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › बस्ती › बुजुर्ग हमारी संपत्ति, उनकी देखभाल हमारा कर्तव्य
बस्ती

बुजुर्ग हमारी संपत्ति, उनकी देखभाल हमारा कर्तव्य

हिन्दुस्तान टीम,बस्तीPublished By: Newswrap
Sun, 26 Sep 2021 03:50 AM
बुजुर्ग हमारी संपत्ति, उनकी देखभाल हमारा कर्तव्य

बस्ती। निज संवाददाता

गैर संचारी रोग कार्यक्रम (राष्ट्रीय मानसिक स्वास्थ्य कार्यक्रम) के अंतर्गत डिमेंशिया सप्ताह एवं वृद्धजन देखभाल कार्यक्रम के अंतर्गत वृद्ध दिवस का आयोजन शनिवार को किया गया। इस अवसर पर वृद्धा आश्रम बनकटा में स्वास्थ्य शिविर का आयोजन किया गया। शिविर का उद्घाटन एसीएमओ डॉ. एफ हुसैन ने किया। अतिथि के रूप में एसीएमओ डॉ. सीएल कन्नौजिया व डॉ. राकेश मणि त्रिपाठी मौजूद रहे।

एनसीडी क्लीनिक जिला अस्पताल के मनोचिकित्सक डॉ. एके दुबे ने मनोरोग से ग्रसित मरीजों का स्वास्थ्य परीक्षण कर उन्हें परामर्श दिया गया। मरीजों में दवा वितरित की गई। डॉ. रुपेश हालदार ने सामान्य मरीजों के मधुमेह तथा हाईपरटेंशन का परीक्षण किया गया। सभी मरीजों के लिए कैम्प में दवा उपलब्ध थी। इसके बाद अतिथियों ने आश्रम में उपस्थित सभी वृद्धों में फल वितरित किया। प्रभारी जिला कार्यक्रम अधिकारी आनंद गौरव शुक्ला ने कहा कि वृद्धजन हमारी संपत्ति हैं, हमें उनकी देखभाल करना चाहिए। समय- समय पर उनके स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखना चाहिए।

मानसिक स्वास्थ्य कार्यक्रम के साइकेट्रिक सोशल वर्कर राकेश कुमार ने बताया कि डिमेंशिया बुढ़ापे में होने वाली एक समस्या है। डिमेंशिया में भूलने की बीमारी, सामजिक तौर-तरीके भूल जाना, सोचने-समझने की क्षमता कम हो जाना, समस्याओं को हल करने में कठिनाई होना, लिखने या बोलने में कठिनाई और लगातार खराब निर्णय लेना जैसे कई अन्य लक्षण दिखाई देते हैं। अर्बन हेल्थ के जिला समन्वयक सचिन चौरसिया, मानसिक स्वास्थ्य कार्यक्रम के सत्यम मिश्रा, निधि राव एवं संजय सहित अन्य कार्यक्रम में उपस्थित रहे।

संबंधित खबरें