DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  बस्ती  ›  घटती सरयू संदलपुर का अस्तित्व मिटाने पर आमादा

बस्तीघटती सरयू संदलपुर का अस्तित्व मिटाने पर आमादा

हिन्दुस्तान टीम,बस्तीPublished By: Newswrap
Tue, 25 Aug 2020 09:14 PM
घटती सरयू संदलपुर का अस्तित्व मिटाने पर आमादा

सरयू नदी का जल स्तर अब काफी कम हो गया है। सप्ताह भर पहले जहां नदी खतरे के निशान से 78 सेमी ऊपर तक उफान मार रही थी, वहीं अब लाल निशान से 16 सेमी ऊपर तक आ गई है। केंद्रीय जल आयोग अयोध्या के अनुसार मंगलवार को दिन में करीब तीन बजे सरयू नदी का जलस्तर 92.890 रिकार्ड किया गया, जो कि खतरे के निशान 92.730 से 16 सेमी ऊपर है।

दूसरी तरफ तेजी से घट रहे जलस्तर से तटवर्ती गांवों में कटान की समस्या बढ़ गई है। इससे ग्रामीण जहां बाढ़ हटने से राहत महसूस कर रहे थे, वहीं कटान से खेतों व गांवों का अस्तित्व खतरे में पड़ गया है। इस समय विक्रमजोत ब्लॉक का संदलपुर पूरी तरह से कटान की जद में आ चुका है, जिससे वहां के ग्रामीण दहशत में आ गए हैं।

कटर क्षतिग्रस्त होने से बढ़ा खतरा

सरयू नदी का पानी तेजी से घटने लगा है। जल स्तर कम होने से बाढ़ प्रभावित गांवों की जिंदगी फिर पटरी पर आने लगी है। रास्तों से पानी सरकने लगा है लेकिन बाढ खंड के बनाए गए बाघानाला, भरथापुर व कल्यानपुर के कटर क्षतिग्रस्त हो चुके हैं। यही नहीं कल्यानपुर के पूर्वी छोर पड़ाव के पास नदी जबरदस्त कटान कर रही है। दूसरी तरफ संदलपुर गांव में बाढ़ खंड के लगाए गए बंबू बेस नदी के तेज बहाव में बह चुके हैं। यहां नदी आबादी से सट कर बह रही है। ऐसे में नदी पूरी तरह से गांव को अपनी चपेट में लेने पर आमादा हो चुकी है। ग्रामीणों को अब आशियानों को खोने का डर सताने लगा है।

संबंधित खबरें