DA Image
Saturday, November 27, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेश बस्तीसंपत्ति के लिए बेटी और दामाद ने उतारा मौत के घाट

संपत्ति के लिए बेटी और दामाद ने उतारा मौत के घाट

हिन्दुस्तान टीम,बस्तीNewswrap
Sat, 26 Jun 2021 04:51 AM
संपत्ति के लिए बेटी और दामाद ने उतारा मौत के घाट

बस्ती/ भानपुर। हिन्दुस्तान टीम

संपत्ति की लालच में बेटी ने अपने पति व उसके साथी की मदद से अपने पिता की हत्या कराई थी। बलिराम निषाद हत्याकांड का सनसनीखेज खुलासा करते हुए एसपी आशीष श्रीवास्तव ने बताया कि हत्यारोपी बेटी रेनू निषाद के साथ उसके पति अरविन्द निषाद उर्फ सुदामा उर्फ छोटू निवासी पठान टोला पुरानी बस्ती और अरविंद के पड़ोसी राहुल निषाद को दुबौली चौराहे के पास से गिरफ्तार कर लिया गया है। उनके कब्जे से हत्या में प्रयुक्त बांका, बाइक व अरविन्द का खून से सना शर्ट बरामद हुआ है।

एसपी के अनुसार सोनहा थाने के करौता उर्फ करनपुर निवासी मृतक बलिराम निषाद (50) की एकमात्र बेटी रेनू है। उसकी शादी 30 नवंबर 2020 को अरविन्द निषाद के साथ हुई थी। पूछताछ में आरोपी अरविन्द ने बताया कि ससुर बलराम का अपनी पत्नी से सम्बन्ध ठीक नहीं था। इस कारण सास करीब 18 साल से अपने मायके में रहीं थीं। कुछ समय पहले उन्हें फिर से बलिराम घर ले आया था। लेकिन इसके बाद भी वह अपने भाई के परिवार के साथ रहता था। रेनू इकलौती बेटी थी और इस लिहाज से बलिराम की पूरी प्रापर्टी उसे मिलनी चाहिए थी। लेकिन बलिराम जमीन-जायदाद, बेटी-दामाद को देना नहीं चाह रहा था।

एसपी के अनुसार बेटी व दामाद को यह यकीन हो गया था कि बलिराम अपना हिस्सा अपने भाई को दे देगा। उनके हिस्से में कुछ नहीं आएगा। इसके चलते ही दोनों ने उसकी हत्या करने की योजना बना डाली। 21 जून को बलिराम के साले की बेटी की शादी थी। इसमें शामिल होने गए के लिए बलिराम इसी थाने के असुरैना स्थित अपनी ससुराल गया था। यहां उसकी बेटी रेनू व दामाद भी पहुंचे थे। देर रात जयमाल के बाद करीब एक बजे घर को निकले बलिराम पर खैरा पुलिया के पास दामाद अरविंद व उसके साथी राहुल ने धारदार बांका से वार कर हत्या कर दी थी।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें