DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बारिश होते ही जलभराव, घरों तक पहुंचा पानी

बारिश होते ही जलभराव, घरों तक पहुंचा पानी

महानगर में झमाझम बारिश के बाद कई इलाकों की सड़कों पर पानी भर गया। जिसकी वजह से यहां से गुजरने वाली गाड़ियों के साथ-साथ पैदल चलने वाले लोगों को भी काफी मुश्किल का सामना करना पड़ा है। रविवार को हुई बारिश से सुभाषनगर, पुराना शहर, राजेंद्र नगर, कर्मचारी नगर आदि इलाके में सड़कों पर 2 से 3 फीट तक जलभराव हो गया। बरसात के बाद सड़कों पर पानी भरने से एकबार फिर नगर निगम और प्रशासन के दावों की पोल खुलती नजर आई। हालात यह बने कि बादल जमकर बरसे तो घर और दुकानों के अंदर भी पानी भर गया। बारिश होने से लोगों को तेज गर्मी से राहत जरूर मिली, लेकिन जलभराव से उनकी मुश्किलें बढ़ गईं। पॉश और निचले इलाकों का बुरा हाल था। सुबह से शुरू हुई झमाझम बारिश दोपहर तक टिप-टिप कर बरसती रही।

यहां बनी मुसीबत: रामपुर गाडर्न में बारिश के पानी ने लोगों को काफी मुसीबतों का सामाना करना पड़ा। गाड़ियां चालक से लेकर पैदल चलने वाले दिन भर इस मुसीबत को झेलते रहे। यही हाल राजेंद्र नगर कालोनी का रहा। शहर का सबसे ज्यादा प्रमुख मार्गों में से एक बटलर प्लाजा भी जलभराव की भेंट चढ़ गया। मॉडल टाउन भी बारिश के पानी में डूब गया। बारिश बंद होने के बाद भी निकासी न होने के कारण जलभराव की समस्या बनी रही। कालोनीवासी दिन भर इस समस्या से जूझते रहे। सरकारी नुमाइंदे भी इस बारिश के पानी से अछूते नहीं रहे। बदायूं रोड स्थित तमाम इलाकों में भी जलभराव होने से लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। यहां के बाशिंदों ने बताया कि साफ सफाई न होने से पानी की निकासी नहीं हुई। जिस कारण जलभराव की दिक्कत आई है। संजय नगर, दुर्गा नगर, शांति विहार, अशोक नगर आदि इलाकों में जलभराव से लोग परेशान रहे।

शहर में सफाई व्यवस्था को गंभीरता से लिया गया है। निरीक्षण कर संबंधित अफसरों को दिशा निर्देश दिए गए हैं। नालों पर पक्के निर्माण होने से जलभराव की दिक्कतें आ रही हैं। बरसात को देखते हुए नाले-नालियों की सफाई कराई जा रही है। आरके श्रीवास्तव, नगरायुक्त

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: Water rains as soon as the rain, water reached to the homes