DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  छह महीने से गांव अंधेरे में, नेताजी को पता नहीं
बरेली

छह महीने से गांव अंधेरे में, नेताजी को पता नहीं

हिन्दुस्तान टीम,बरेलीPublished By: Newswrap
Wed, 02 Jun 2021 03:31 AM
रमपुरा माफी गांव के लोगों से बिजली निगम की मशीनरी ने घरों को रोशन करने का हक छीन लिया। बिजली निगम के अफसरों के साथ-साथ रमपुरा माफी को जनप्रतिनिधियों...
1 / 2रमपुरा माफी गांव के लोगों से बिजली निगम की मशीनरी ने घरों को रोशन करने का हक छीन लिया। बिजली निगम के अफसरों के साथ-साथ रमपुरा माफी को जनप्रतिनिधियों...
रमपुरा माफी गांव के लोगों से बिजली निगम की मशीनरी ने घरों को रोशन करने का हक छीन लिया। बिजली निगम के अफसरों के साथ-साथ रमपुरा माफी को जनप्रतिनिधियों...
2 / 2रमपुरा माफी गांव के लोगों से बिजली निगम की मशीनरी ने घरों को रोशन करने का हक छीन लिया। बिजली निगम के अफसरों के साथ-साथ रमपुरा माफी को जनप्रतिनिधियों...

रमपुरा माफी गांव के लोगों से बिजली निगम की मशीनरी ने घरों को रोशन करने का हक छीन लिया। बिजली निगम के अफसरों के साथ-साथ रमपुरा माफी को जनप्रतिनिधियों की बेरुखी भी खूब झेलनी पड़ रही है। छह महीने पहले चोरी हुए ट्रांसफार्मर की जगह दूसरा नहीं लग सका। आधा गांव अंधेरे में है। भोजीपुरा के विधायक बहोरन लाल मौर्य को अपनी विधानसभा क्षेत्र के गांव रमपुरा माफी के लोगों के दर्द की जानकारी नहीं है। हालांकि विधायक अब बिजली अधिकारियों से बात करके गांव में ट्रांसफार्मर लगवाने की बात जरूर कह रहे हैं।

बरेली शहर से बमुश्किल रमपुरा माफी 15 किमी. की दूरी पर है। एसआरएमएस के हाईवे से करीब 200 मीटर दूर रमपुरा माफी गांव है। गांव तक पक्की सड़क है। शहर से इतने करीब होने के बावजूद भी रमपुरा माफी बिजली और नेताओं की अनदेखी का दंश झेल रहा है। छह महीने से आधे गांव में बिजली नहीं है। घरों में अंधेरा है। छात्र-छात्राओं की ऑनलाइन पढाई चौपट हो गई। घरों में टीवी-फ्रिज सब बंद हो गए। गांव वाले गरीब में पंखों की हवा तक नहीं ले सकते। भोजीपुरा के विधायक बहोरन लाल मौर्य को रमपुरा माफी से छह महीने से बिजली आपूर्ति ठप होने की जानकारी तक नहीं है। गांव वाले बिजली अधिकारियों की कारगुजारी को सीएम योगी तक पहुंचाने की तैयारी कर रहे हैं।

जीतने के बाद कभी रमपुरा माफी नहीं गए विधायक

ग्राम प्रधान ताहिर ने बताया कि बहोरन लाल मौर्य विधायक बनने के बाद कभी रमपुरा माफी गांव नहीं आए। हमारे गांव की दिक्कतों के बारे में कभी विधायक जानने की जरूरत नहीं समझी। जबकि शहर से सिर्फ 15 किमी दूर है। हाईवे से अक्सर विधायक गुजरते होंगे। हम छह महीने से आधे गांव में बिजली नहीं है। अधिकारी और नेता किसी को हमारी परेशानी को हल कराने की चिंता नहीं है।

कमियां छुपाने में जुटे बिजली अधिकारी

बिजली निगम के अधिकारी को रमपुरा माफी में ट्रांसफार्मर लगाने में हुई हीलाहवाली पर पर्दा डालने की जोड़तोड़ कर रहे हैं। छह महीने से चोरी हुए ट्रांसफार्मर दूसरा नहीं लगाया। इसका जवाब उनके पास नहीं है। अपनी कमियों को छुपाने के नए बहाने तलाश रहे हैं।

रमपुरा माफी में ट्रांसफार्मर चोरी होने के बारे में मुझे जानकारी नहीं थी। छह महीने से गांव में बिजली की आपूर्ति प्रभावित होना बाकई गंभीर बात है। मैं बुधवार को बिजली निगम के अधिकारियों से बात करुंगा। गांव में बिजली आपूर्ति बहाल कराने के लिए ट्रांसफार्मर लगवाया जाएगा।- बहोरन लाल मौर्य, विधायक भोजीपुरा

संबंधित खबरें