DA Image
26 फरवरी, 2020|12:21|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आयुष्मान में बरेली टॉप, जिले में 12 करोड़ रुपये से ज्यादा का कराया इलाज 

आयुष्मान योजना के तहत अब तक बरेली में 12 करोड़ से अधिक का इलाज हो चुका है। प्रदेश में पहले से ही मरीजों की संख्या में जिला पहले स्थान पर चल रहा है। अब इलाज के व्यय में भी बरेली टाप पर आ गया है। अब तक 12.15 करोड़ रुपये का इलाज हो चुका है जिसमें करीब 50 प्रतिशत का भुगतान सरकार की तरफ से किया जा चुका है।

प्रधानमंत्री जन आरोग्य आयुष्मान योजना के तहत जिले के 2.5 लाख परिवारों को पात्र चुना गया है। पात्र परिवारों के 5 सदस्यों का हर साल 5-5 लाख रुपये तक इलाज आयुष्मान योजना की तरफ से किए जाने का प्रावधान है। योजना में इंपैनल्ड होने के लिए 116 सरकारी और प्राइवेट अस्पतालों ने आवेदन किया था जिसमें 20 के आवेदन निरस्त हो चुके हैं। योजना में 6 सरकारी अस्पताल समेत 89 चिकित्सालय इंपैनल्ड हैं। आयुष्मान योजना में 11 हजार से अधिक मरीजों का इलाज हो चुका है और 12 करोड़ 15 लाख रुपये से अधिक खर्च हुआ है। इस तरह औसतन हर मरीज पर आयुष्मान योजना में करीब 11 हजार रुपये खर्च हुए हैं।

निजी अस्पतालों को हुआ 50 फीसदी ही भुगतान

आयुष्मान योजना में सरकारी और निजी, दोनों ही चिकित्सालय इंपैनल्ड हैं। लेकिन आश्चर्य की बात है कि जहां सरकारी अस्पतालों को 85 प्रतिशत से अधिक का भुगतान किया जा चुका है वहीं निजी अस्पतालों को 50 फीसदी ही भुगतान मिल सका है। इस देरी के चलते कई निजी अस्पताल शिकायत भी कर चुके हैं।

आयुष्मान योजना एक नजर में

  • 11061 मरीजों का अब तक हो चुका है इलाज आयुष्मान योजना के तहत
  • 12,15,66,038 रुपये अब तक मरीजों के इलाज में हुए हैं खर्च
  • 16,64,000 रुपये सरकारी अस्पतालों ने किया क्लेम
  • 11,99,02,038 रुपये निजी अस्पतालों ने किया है क्लेम इस योजना में 
  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Treatment of more than 12 crores from Ayushman