ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेशनेपाल से भटक कर बरेली आए मासूम, अनाथालय में पल रहे

नेपाल से भटक कर बरेली आए मासूम, अनाथालय में पल रहे

कोरोना ने बड़े दर्द दिए हैं। मार्च में नेपाल से भटक कर बरेली पहुंचे चार मासूम करीब साढे तीन महीने से अनाथालय में रहने को मजबूर हैं। मासूम अपने परिवार...

नेपाल से भटक कर बरेली आए मासूम, अनाथालय में पल रहे
Newswrapहिन्दुस्तान टीम,बरेलीThu, 15 Jul 2021 03:20 AM

कोरोना ने बड़े दर्द दिए हैं। मार्च में नेपाल से भटक कर बरेली पहुंचे चार मासूम करीब साढे तीन महीने से अनाथालय में रहने को मजबूर हैं। मासूम अपने परिवार वालों की याद में तड़प रहे हैं। कोरोना का संक्रमण थमा तो नेपाल के मासूमों को घर भेजने की कोशिश शुरू हुई है। प्रशासन ने राज्य बाल अधिकार संरक्षण आयोग को चारों मासूमों की रिपोर्ट भेज दी है। प्रदेश सरकार नेपाल के अधिकारियों से संपर्क कर बच्चों का रिकार्ड सौंपेगी।

मार्च में नेपाल के चार बच्चे बरेली में मिले थे। 19 मार्च को करीब 15 साल का नेपाल का लड़का भोजीपुरा के पास रेलवे ट्रैक के पास मिला। 27 मार्च को तीन और नेपाल बच्चे मिले। दो सगे भाई हैं। एक की उम्र 9 साल और दूसरे की सात साल है। उनके साथ पांच साल की बच्ची भी मिली। चारों बच्चों को चाइल्ड लाइन ने मार्च में ही बाल कल्याण समिति के सामने पेश कि या था। सीडब्ल्यूसी ने चारों को अनाथालय भेज दिया। 15 साल के किशोर ने अपने घर का पता बता दिया है। जबकि बाकी तीन मासूम अपने घर का पता नहीं बता पा रहे। हालांकि गांव का नाम जरूर बताया है। कोरोना के संक्रमण के दौरान भारत-नेपाल बार्डर पर आवाजाही पूरी तरह बंद हो गई थी। प्रशासन ने चारों नेपाली बच्चों की रिपोर्ट एससीपीसीआर को भेज दी है।

epaper