DA Image
Saturday, December 4, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेशबारिश का पानी सूखेगा तब नुकसान का पता चलेगा

बारिश का पानी सूखेगा तब नुकसान का पता चलेगा

हिन्दुस्तान टीम,बरेलीNewswrap
Fri, 22 Oct 2021 03:20 AM
बारिश का पानी सूखेगा तब नुकसान का पता चलेगा

बारिश और बाढ़ से हुए किसानों की फसलों के नुकसान का आंकलन करने में खेतों में जमा पानी मुसीबत बन गया है। खेतों का पानी सूखने का बाद ही फसलों के नुकसान की सही जानकारी हो सकेगी। फिलहाल राजस्व विभाग और कृषि विभाग का ज्वाइंट सर्वे सिर्फ किसानों से जमीनों के दस्तावेज एकत्र करने तक सिमट गया है।

बारिश और बाढ़ से बरेली में फसलों को तबाह कर दिया। धान की फसल सबसे अधिक बर्बाद हुई है। आलू-तिल और सरसों समेत दूसरी फसलों को खेतों में पानी जमा होने से भारी नुकसान पहुंचा है। शासन के आदेश पर फसलों के नुकसान का आंकलन करने के लिए राजस्व और कृषि विभाग की ज्वाइंट टीमें बनाई गईं हैं। तीन दिन से सर्वे टीमें खेतों में पानी सूखने का इंतजार कर रहीं हैं। कितनी फसल नष्ट हो गई इसका सही आकलन नहीं हो पा रहा है। फिलहाल खेतों में पानी के सूखने का इंतजार किया जा रहा है।

--

खेतों में पानी सूखे बगैर फसलों के नुकसान का सही आकलन नहीं किया जा सकता। पानी कम हो रहा है। उम्मीद है दो-तीन दिन में खेतों का पानी सूख जाएगा। सर्वे रिपोर्ट आने के बाद ही फसलों के नुकसान का मुआवजा तय किया जाएगा।- मनोज कुमार पांडेय, एडीएम फाइनेंस

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें