ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशफर्जीवाड़ा कर लिया था टेंडर, फर्म संचालक पर केस

फर्जीवाड़ा कर लिया था टेंडर, फर्म संचालक पर केस

मैसर्स आरसी इंटरप्राइजेज के टेंडर अभिलेख में बड़ा फर्जीवाड़ा पकड़ा गया। अभिलेखों में फर्जी चरित्र प्रमाण पत्र दिखाया...

फर्जीवाड़ा कर लिया था टेंडर, फर्म संचालक पर केस
हिन्दुस्तान टीम,बरेलीFri, 17 Sep 2021 03:41 AM
ऐप पर पढ़ें

मैसर्स आरसी इंटरप्राइजेज के टेंडर अभिलेख में बड़ा फर्जीवाड़ा पकड़ा गया। अभिलेखों में फर्जी चरित्र प्रमाण पत्र दिखाया गया, इतना ही नहीं ट्रक की जगह ट्रैक्टरों के नंबर टेंडर में भरे गए। सभी अभिलेखों को आरएफसी जोगिंदर सिंह ने चेक किया और टेंडर को निरस्त कर फर्म को ब्लैड लिस्टेड कर दिया। भमोरा थाना में आरोपी फर्म संचालक प्रमोद पाठक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया है।

जिला खाद्य विपणन अधिकारी के मुताबिक, भारतीय खाद्य निगम के गोदाम से सीधे कोटेदारों की दुकानों तक सिंगल स्टेज डोर स्टेप डिलीवरी व्यवस्था के अन्तर्गत खाद्यान्न के परिवहन हेतु ठेकेदार नियुक्त करने को ई-टेंडर आमंत्रित किये। जिसमें मैसर्स आरसी इंटरप्राइजेज के विरूद्ध शिकायत प्राप्त हुई। आरोप था कि फर्म संचालक प्रमोद पाठक ने फर्जी दस्तावेज अपलोड कर टेंडर लिया है। जिसकी जांच के लिये तीन अधिकारियों की कमेटी गठित की गई। जांच में मैसर्स आरसी इंटरप्राइजेज ने कूट-रचित अभिलेख ई-टेंडर में अपलोड करने की पुष्टि हुई। आरोपी ने जो चरित्र प्रमाण पत्र लगाया वह जिलाधिकारी कार्यालय से बना ही नहीं है। इसके साथ ही जिन वाहनों के नंबर दिखाए जाने थे, उसमें ट्रकों की जगह ट्रैक्टर के नंबर अपलोड किए गए थे। जिला खाद्य विपणन अधिकारी की ओर से देवचरा बल्लिया निवासी मैसर्स आरसी इंटरप्राइजेज संचालक प्रमोद पाठक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया था।

संभागीय खाद्य विपणन अधिकारी राममूर्ति वर्मा ने बताया, मैसर्स आरसी इंटरप्राइजेज के संचालक प्रमोद पाठक ने खाद्यान्न उठान ई-टेंडर में कूटरचित दस्तावेज लगाए थे। जिसमें अभिलेख फर्जी पाए गए हैं। फर्म को ब्लैड लिस्टेड कर भमोरा थाने में केस दर्ज कराया गया है।