story of murder of women in bareilly - यूपी: मोहल्ले वाले न बचाते तो 25 को ही मारी जाती आरती, आपको भी झकझोर देगी हत्या की वजह DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

यूपी: मोहल्ले वाले न बचाते तो 25 को ही मारी जाती आरती, आपको भी झकझोर देगी हत्या की वजह 

धीरज और आरती के 11 जुलाई को गांधीपुरम में किराये के घर में आने के बाद 25 जुलाई को दोनों के बीच झगड़ा हुआ था। पत्नी ने डायल 100 को फोन कर बुला लिया था। भाई प्रदीप ने बताया कि बात सिर्फ इतनी थी कि आरती गली में परचून दुकान पर सामान खरीदने चली गई थी। इसी बात पर धीरज ने आरती को बेरहमी से पीटा था। मोहल्ले वालों ने बचाया न होता तो धीरज उसी दिन आरती को मौत के घाट उतार चुका होता। इसके बाद आरती के मायके वालों ने आकर प्रेमनगर थाने में एक अगस्त को सास, ससुर और पति के खिलाफ दहेज प्रताड़ना का मुकदमा दर्ज कराया था। मकान मालिक नीरज ने उसी दिन धीरज को घर खाली करने का नोटिस दे दिया था।

ब्यूटी पार्लर में की थी आरती ने नौकरी: 25 अगस्त को झगड़े के बाद आरती ने धीरज को घर में चार-पांच दिन तक घुसने नहीं दिया था। आरती के पास रुपये नहीं थे। इसलिए उसने राजेंद्र नगर के एक ब्यूटी पार्लर में दो दिन नौकरी की थी। इसके बाद धीरज ने आरती को मना लिया था तब से दोनों साथ रह रहे थे।

...तो इस वजह से महिला मित्र ने की थी बरेली के दंपति की हत्या, पुलिस पूछताछ में हुए और भी चौंकाने वाले खुलासे

काफी घबरा गए मकान मालिक नीरज

आरती की निर्मम हत्या देख मकान मालिक काफी घबरा गए। वह लाश देखकर पुलिस के सामने रोने लगे। सीओ प्रथम अशोक कुमार ने उन्हें शांति से जानकारी देने के लिए कहा। इसके बाद पुलिस को उन्होंने पूरे मामले की जानकारी दी। 

फतेहगंज पूर्वी में महिला ने अपने ही पति की कर दी हत्या, महिला की यह करतूत सुनकर आप भी रह जाएंगे दंग

परिवार में झगड़े की बात कहकर लिया था किराये पर मकान

धीरज का डिफेंस कॉलोनी में अपना मकान है। घर में मां से झगड़े की बात कहकर वह गांधीपुरम में नीरज अग्रवाल के घर किराये पर रहने आया था। नीरज फेसवॉश व साबुन का बिजनेस करते हैं। नीरज की पत्नी मोनी के पास आरती बातचीत करने आ जाती थी। 

राजेंद्रनगर के गुलमोहर पार्क में दंपति की सिर कुचलकर हत्या

घटना के बाद धीरज का परिवार भागा  

शहीद गेट के पास डिफेंस कॉलोनी में धीरज के घर प्रेमनगर पुलिस ने छापा मारा। इस दौरान पुलिस को पिता राममूरत सरन रस्तोगी व मां सुषमा रस्तोगी नहीं मिले। उनके घर में ताला लटक रहा है। पड़ोसियों से जानकारी की तो उन्होंने भी सुबह से न देखने की बात पुलिस को बताई। 

बरेली में हुए दोहरे हत्याकांड को लेकर डीआईजी से मिले परिजन

घर के सामने से ही भागा आरोपी धीरज

आरती की हत्या के बाद धीरज घर के मेन दरवाजे से ही भागा। नीरज ने बताया कि सुबह घर का मेन गेट खुला था। नीरज के घर और भी किरायेदार रहते थे। उन्होंने इसलिए गौर नहीं किया क्योंकि मेन गेट की चाबी सभी किरायेदारों के पास रहती थी। 

सीसीटीवी फुटेज के जरिये पुलिस ने उठाया डबल मर्डर का संदिग्ध

लाश देखकर दहल उठे लोग

पुलिस को तफ्तीश में रसोई के अंदर चाकू नहीं मिला है। संभवत: उसी चाकू से धीरज ने आरती की हत्या की होगी। निर्ममता देखकर ऐसा लग रहा है कि आरती की जब तक सांस चलती रही, तब तक धीरज उसकी आंख, गले, हाथ पर वार करता रहा। दरवाजा खुलने पर जब लोगों ने आरती की लाश देखी तो वह सहम गए। 

आरोपी की तलाश की जा रही है। उसके मां-बाप भी घर बंद कर फरार हैं। सभी के मोबाइल स्विच ऑफ हैं। मायके वाले गोंडा से चल दिए हैं। उनके आने पर पूछताछ के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

अशोक कुमार, सीओ फर्स्ट 

आंवला में दिनदहाड़े स्टेट बैंक चौराहे पर महिला की गोली मारकर हत्या

शादी डॉट कॉम पर झूठ बोलकर की थी शादी 

आरती की पहली शादी गोंडा में ही सर्राफा कारोबारी एसपी बहादुर सोनी से हुई थी। एसपी सोनी का अत्यधिक शराब पीने से लीवर डैमेज हो गया। पांच साल पहले उनकी मौत हो गई। पहले पति का आरती से आठ साल का बेटा कृष्णा है। पति की मौत के बाद अकेली हुई आरती के लिए उसके छोटे भाई प्रदीप ने शादी डॉट कॉम पर रिश्ते देखे, जहां उसकी मुलाकात धीरज से हुई। धीरज ने आरती से शादी करने के लिए कई झूठ बोले। 

बरेली पुलिस लाइन के हॉस्टल में महिला दरोगा की हत्या

धीरज ने खुद को अविवाहित व सरकारी शिक्षक और पिता को डॉक्टर बताया था। जबकि, आरती ने अपनी पहली शादी व बेटे होने की बात पहले ही बता दी थी। धीरज ने बेटे को अपनाने के लिए कहा था। बाद में वह मुकर गया। रिश्ता आरती के भाई ने ढंूढा था, इसलिए आरती के पिता सर्राफ मनकन प्रसाद सोनी और मां सावित्री देवी ने हामी भर दी। 22 जून 2018 को गोंडा में उनकी शादी हुई। शादी के बाद बरेली आने पर आरती को पता चला कि धीरज पहले से शादीशुदा है। उसका पत्नी नीलम से तलाक का मुकदमा चल रहा है। इस पर आरती को झटका लगा। आरती के छोटे भाई प्रदीप ने बताया कि नीलम सरकारी कॉलेज में शिक्षक है। डोहरा रोड पर सनराइज कॉलोनी में रहती है। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:story of murder of women in bareilly